August 14, 2020

बकरीद पर देंगे खुलेआम कुर्बानी – बर्नार्ड गौड़ी

Spread the love

कोरोना से क्या डरना, विकल्प तो है, बकरीद पर देंगे खुलेआम कुर्बानी

इस बार पर्व और त्योहारों को कोरोना महामारी ने इस कदर अपनी बेड़ियों में जकड़ लिया है, जिसके चलते इस बार त्यौहार महज औपचारिकता भर रह गया है और लोग महज रस्म की अदायगी कर रहे हैं। ऐसा ही कुछ इस बार बकरीद पर देखने को मिला। पहले जहां बकरीद पर बकरा मंडी से कुर्बानी देने के लिए बकरे ख़रीदे जाते थे,वहीं आज लोग केक की दुकानों पर एक अलग तरीके का केक खरीदते नजर आये।

कोरोना ने सबकी रोजी रोटी पर ब्रेक लगा दिया है और हर कोई कहीं ना कहीं आर्थिक तंगी से गुजर रहा है। इसी सब को देखते हुए वाराणसी में लोग बर्थडे केक पर बकरे की तस्वीर वाली केक खरीदते नजर आ रहे हैं। यूं तो लोग जन्मदिन पर केक काटते हैं लेकिन इस बार बकरे की कुर्बानी देने की बजाय बकरे की फोटो लगी केक खरीद रहे हैं।

बता दें कि शहर के भैरवनाथ इलाके की एक बेकरी शॉप पर जुटे मुस्लिम समाज के युवकों में से एक मोहम्मद मुमताज अंसारी ने बताया कि कोरोना को लेकर शासन-प्रशासन मुस्तैदी के साथ लगा हुआ है।  इसलिए हमने भी सोचा कि हम सब को भी अपना सहयोग देना चाहिए।यही वजह है कि बकरीद के पर्व पर हम बकरे की तस्वीर वाले केक को खरीदकर घर पर काटेंगे। उसने कहा कि इस साल कोरोना के कारण बकरा खरीदना एक सपना हो गया है।इसीलिए परंपरा को निभाने के लिए केक खरीदकर उसी को काटेंगे।

वहीं बेकरी दुकानदार का कहना है कि इस बार बकरीद पर उनकी दुकान पर बकरे की तस्वीर वाले केक के काफी ऑर्डर आये हैं। इतना ही नहीं बकरे के आकार का केक का डिमांड भी जोरों पर है। केक कई तरह के फ्लेवर में बनाया जा रहा है। इन केक की कीमत पांच सौ रुपये से लेकर दो हजार रुपये तक है।