December 5, 2021

पुलिस पति के दबाव में आकर हमें फसा रही है :- मीरा यादव

Spread the love

सिया राम मिश्र -संपादक की कलम से :
: विधान-परिषद के सभापति रमेश यादव के बेटे अभिजीत उर्फ विवेक यादव उम्र 23 वर्ष की हत्या उसकी मां मीरा यादव ने गला दबाकर की थी । पुलिस ने 24 घंटे में ही इस हाई प्रोफाइल हत्याकांड का खुलासा कर दिया , वहीं दुसरी तरफ मीरा यादव ने अपने पति सभापति रमेश यादव पर गंभीर आरोप लगाया कि उनके बेटे अभिजीत ने फांसी लगाकर आत्महत्या की थी , लेकिन पुलिस ने उनके पति के दबाव में उन्हें फंसा रही है ।
पुलिस के अनुसार मीरा यादव ने अभिजीत को पहले थप्पड़ मारा । ज्यादा नशे में होने के कारण उसका सिर दीवार से टकराया और वह बेहोश हो गया । इसके बाद मीरा ने गुस्से में आकर दुपट्टे से बेटे का गला घोंटकर उसकी हत्या कर दी । इसके बाद वह काफी देर तक शव के पास बैठी रही । कुछ देर बाद मीरा ने पति रमेश यादव और बड़े बेटे अभिषेक को अभिजीत के हार्टअटैक आने की सूचना दी । अभिषेक घर पर पहुंचा , तो वहां बेड पर अभिजीत की लाश पड़ी थी । उसने परिवारीजन से बातचीत की ।
सुबह करीब छह बजे सभापति की पहली पत्नी के बेटे पूर्व विधायक आशीष यादव पहुंचे । वहां काफी देर मंत्रणा के बाद शव का आनन-फानन में अंतिम संस्कार करने की तैयारी शुरू की गई । अचानक सभापति के दारूलशफा आवास पर लोगों की भीड़ बढ़ी तो आस-पास के लोगों को कुछ अंदेशा हुआ । इसी बीच , किसी ने पुलिस को सूचना दे दिया और पुलिस मौके पर पहुंच गई ।
कैन्ट थाने से पेशी पर जाते समय मीरा यादव ने MVD INDIA NEWS से कहां कि उनके पति उनके पूरे परिवार की हत्या का साजिश रच रहे हैं । थाने में मीरा को पुलिस ने जबर्दस्ती गाड़ी में बैठाकर कोर्ट लेकर चली गई । इसके पहले मीरा यादव का मेडिकल परिक्षण कराया गया । मीरा ने यह भी कहां की सभापति उन्हें और उनके बेटे अभिजीत के साथ सौतेला व्यवहार करते है । खर्च तक के लिए रुपये नहीं देते थे । छोटी से छोटी वस्तु के लिए सभापति के परिवार की तरफ निहारना पड़ता था ।इसके चलते अभिजीत शराब का लती हो गया था ।