January 21, 2021

जब डॉक्टरों ने हाथ उठा दिए तो खाकी वाले ने बेटा बन बंधाया ढाढ़स….!*

Spread the love

*जब डॉक्टरों ने हाथ उठा दिए तो खाकी वाले ने बेटा बन बंधाया ढाढ़स….!*

वाराणसी।कोरोनाकाल में कुछ अपवादों को छोड़ दें तो देशभर में पुलिस का संवेदनशील और मानवीय चेहरा उभरकर सबके सामने आया है

वाराणसी में खाकी का संवेदनशील चेहरा उस वक्त देखने को मिला जब बेटी की मौत पर डॉक्टरों की टीम भाग खड़ी हुई तब हंगामा कर रहे परिजनों को सबइंस्पेक्टर ने शांत कर बदहवास पिता को गले लगाकर ढांढस बधाया

*कबीरचौरा चौकी प्रभारी प्रीतम तिवारी ने बूढ़े पिता को आश्वस्त किया वे उनके बेटे बन जिम्मेदारियों का निर्वहन करेंगे*

चौबेपुर के चन्द्रावती गांव की गुड़िया की तबियत सोमवार की सुबह अचानक खराब हुई उसे इलाज के लिए मंडलीय अस्पताल कबीरचौरा लाया गया

गुड़िया के परिजनों का आरोप है कि इमरजेंसी में भर्ती के लगभग एक घंटे तक डॉक्टरों ने बिटिया का इलाज आरंभ नहीं किया

*वह अभी आते हैं कहकर मामले को टालते रहे और फार्मासिस्ट को इलाज के लिए भेजकर शांत हो गए*

गुड़िया के पिता का आरोप था उनकी बेटी को जो ऑक्सीजन लगाया था वह भी बन्द रहा

इसी दौरान देर शाम गुड़िया की मौत हो गई।