February 27, 2024

NIA द्वारा वाराणसी में गिरफ्तार तीन नौजवानों के परिवार से मिला प्रतिनिधिमंडल-

Spread the love

*NIA द्वारा वाराणसी में गिरफ्तार तीन नौजवानों के परिवार से मिला प्रतिनिधिमंडल….*

 

_*परिवार ने कहा,हमारा गुनाह बस इतना है कि हम मुसलमान हैं…*_

 

आज़ वाराणसी में NIA द्वारा गिरफ्तार, शाहिद, वसीम व रिजवान के माता-पिता परिवार के अन्य सदस्यों से हमारा प्रतिनिधिमंडल मिला, पड़ोसियों से भी बातचीत की गई..

सामाजिक-राजनीतिक सक्रियता को टटोला गया और इस निष्कर्ष पर पहुंचा गया कि भारी अन्याय हो रहा है इन नौजवानों के साथ, वज़ह तक नही बताई जा रही है गिरफ्तारी की, देर रात को घसीट कर ले गई पुलिस, पिछ्ले तीन दिनों से कहां रखा गया है, परिवार को यह तक नही बताया जा रहा है..

प्रतिनिधिमंडल से बात करते परिवार और मुहल्ले के लोगों ने लगभग एक स्वर में कहा कि अब ऐसा लगता है कि इस सरकार के दौर में मुस्लिम होना ही गुनाह हो गया है, और सब कुछ बहाना है असली मक़सद हमे निशाना बनाना है

शाहिद के पिता ने कहा कि उसका एक और गुनाह ये था कि वह समाज और देश की चिंता करता है, डरता नही है, लोकतांत्रिक तरिके से सामाजिक मसलों को उठाता है, शायद इसी की सजा दी जा रही है उसे…

प्रतिनिधिमंडल से बात करते हुए पड़ोसियों ने साफ़-साफ़ कहा कि जिस तरह से देश भर में गिरफ़्तारी की जा रही है, इस्लामोफोबिया फैलाने की कोशिश हो रही है, लगता वाराणसी में हुई गिरफ्तारी भी इसी गलत मक़सद से की गई है…

प्रतिनिधिमंडल में मुख्य रूप कम्युनिस्ट फ्रंट के संयोजक मनीष शर्मा, गांव के लोग पत्रिका के संपादक रामजी यादव, डाo अकबर, इस्तियाक भाई, अपर्णा, शहजादी, फजलुर्रहमान, शाहिद जमाल, आदि शामिल थे…

कम्युनिस्ट फ्रंट की ओर से जारी….9935498587