September 23, 2020

प्रेमिका ही निकली प्रेमी की हत्यारिन – कौशिक बगड़िया

Spread the love

आदित्यपुर जमशेदपुर
मानगों निवासी तारकनाथ मंडल का प्रेेेेमिका सेे विवाह न करना
उसे महंगा पड़ा। दरअसल, शादी नही होने के कारण गुस्सेे में प्रेमिका किरण महतो ने अपने तीन सहयोगियों के साथ मिलकर युवक की गला दबाकर हत्या कर दी। पुलिस ने मामले का खुलासा करते हुए प्रेमिका किरण महतो, आदित्यपुर भाटिया बस्ती के करण लोहार, गणेश लोहार व कमलेश प्रसाद को हत्या के मामले में जेल भेज दिया। इस सबंध में थाना प्रभारी राजेंद्र प्रसाद ने बताया कि मानगो मार्ग संख्या 15 निवासी तारकनाथ मंडल, जो कि टाटा स्टील में ठेका मजदूर के रूप में कार्य करता है।
वह नीमडीह थाना की रहने वाली किरण महतो से प्रेम करता था। प्रेमिका किरण महतो शादी का दबाव बनाने लगी। इसी बीच तारकनाथ ने 30 जून को  बुंडु में अपना विवाह दूसरे युवती से कर लिया। इससे नाराज प्रेमिका किरण महतो ने अपने पूर्व के परिचित कमलेश प्रसाद से सम्पर्क करके हत्या की योजना बनाया। जिसके बाद मृतक तारकनाथ मंडल को फोन करके 20 जुलाई के रात को अपने घर बुलाई। उसको अपने घर में ही सुला दिया गया। उसके बाद जब मृतक तारकनाथ गहरी नींद से सो गया तो उसने अपने तीन सहयोगियों के साथ मिलकर गला दबाकर उसकी हत्या कर दिया। उसके बाद शव को बाइक में ही लेकर हथियाडीह के पास बोरकाडीह स्थित गढे में फेंक दिया गया। जबकि मृतक की बाइक को हथियाडीह में फेंक दिया। इस मामले में मृतक के भाई पेलाराम मंडल के बयान पर मामला दर्ज किया गया।

10 हजार की दी थी सुपारी
प्रेमिका किरण महतो ने अपने प्रेमी तारकनाथ मंडल की हत्या के लिए कमलेश प्रसाद माध्यम से  गणेश लोहार, करण लोहार को सात हजार की रुपये दिए थे।  वही तीन हजार कमलेश प्रसाद ने अपने रखा था। पुलिस ने मोबाइल के जरिए युवक की हत्या का सारा गुत्थी सुलझाया। प्रेमिका किरण महतो गांधी इंस्टीटयूट भाटिया बस्ती में वार्डन का काम करती थी।

समारोह में पहली बार मिले थे तारकनाथ व किरण
तारकनाथ मंडल एवं प्रेमिका किरण महतो पहली बार घाटशिला में एक शादी समारोह में मिले थे। उसके बाद दोनो के बीच में प्यार हो गया। जिसके बाद युवती के द्वारा विवाह करने का दवाब बनाने लगी।