January 19, 2022

टीचर और छात्र के अवैध संबंध,मे बाधक पति की हत्या

Spread the love

हरियाणा के पानीपत में एक 30 वर्षीय महिला ट्यूशन टीचर ने अपने 19 वर्षीय छात्र के साथ मिलकर अपने पति की बेरहमी से हत्या कर दी. मृतक का शव उसके घर से बरामद किया गया है. पुलिस ने जांच में पाया कि मृतक के सिर पर किसी भारी वस्तु से वार किया गया था. साथ ही उसके हाथ-पांव भी बांधे गए थे. पुलिस ने इस संबंध में मृतक की पत्नी और उसके छात्र को गिरफ्तार कर लिया है. मामला टीचर और छात्र के बीच अवैध संबंध का है.
वारदात समालखा इलाके की है. पुलिस के मुताबिक समालखा में दलबीर सिंह नामक युवक खाद्य एवं आपूर्ति विभाग में काम करता था. करीब 4 वर्ष पूर्व उसका विवाह रोहतक निवासी अमिता के संग हुआ था. अब उनकी एक बेटी भी है. अमिता ने पोस्ट ग्रेजुएशन किया था. वो पढ़ने में काफी तेज थी. लिहाजा पिछले कुछ माह से वह उसके पड़ोस में रहने वाले एक ITI के छात्र अमित को ट्यूशन पढ़ा रही थी.
वक्त बीतते बीतते ना जाने कब अमिता और उसके छात्र अमित के बीच अवैध संबंध हो गए. कुछ दिन बाद यह बात दलबीर के परिजनों को पता चल गई. दलबीर और अमिता के बीच इस बात को लेकर काफी विवाद हुआ. दलबीर ने वहां से कमरा बदल दिया और दूसरी जगह शिफ्ट हो गया. इस बात से अमिता गुस्से से भर गई. उसने दलबीर को रास्ते हटाने की योजना बना डाली.
अपने प्लान के मुताबिक अमिता ने 18 दिसम्बर के दिन अमित को फोन कर अपने कमरे पर बुलाया. फिर दलबीर को चाय में डालकर नशे की गोली दे दी. दलबीर बेहोश हो गया. अमिता और अमित ने उसके हाथ-पांव बांध दिए. लेकिन वो होश में आ गया. हाथ-पांव बंधे होने की वजह से उसने विरोध किया. तभी अमिता और अमित ने उसके सिर पर डंडे से कई वार कर डाले. जिससे मौके पर ही उसकी मौत हो गई.
हत्या के तीन दिन बाद पुलिस ने दलबीर का शव उसके कमरे से बरामद किया. जबकि उसकी आरोपी पत्नी अमिता वहां से फरार हो गई. पुलिस के मुताबिक अमिता और उसका प्रेमी भागकर जयपुर पहुंचे और वहां से अजमेर, छत्तीसगढ़ और पंजाब जाकर के होटल में रहे. पुलिस को छानबीन से पता चला कि दलबीर के एटीएम से रुपये भी निकाले जा रहे थे.
इसके बाद दोनों हरियाणा के रोहतक जा पहुंचे और वहां सेक्टर-4 में एक कमरा किराए पर लेकर रहने लगे. मंगलवार को उनकी ख़बर क्राइम टीम को मिली. इसके बाद पुलिस ने दबिश देकर दोनों को गिरफ्तार कर लिया. पकड़े जाने पर दोनों ने अपना गुनाह कुबूल कर लिया. इस संबंध में मोहनगढ़, जींद निवासी ईश्वर सिंह ने थाना समालखा में केस दर्ज कराया है. वादी मृतक दलबीर का चचेरा भाई है.