July 18, 2024

गुड्डू मुस्लिम के 3 हिंदू नाम, हनुमान चालीसा और गायत्री मंत्र भी जानता है अच्छी तरह-

Spread the love

*बड़ा खुलासा: गुड्डू मुस्लिम के 3 हिंदू नाम, हनुमान चालीसा और गायत्री मंत्र भी जानता है अच्छी तरह*

 

लखनऊ।देश का बहुचर्चित प्रयागराज का उमेश पाल हत्याकांड का आरोपी मारा गया माफिया अतीक अहमद का खास गुर्गा गुड्डू मुस्लिम 62 दिन से पुलिस की गिरफ्त से दूर है।अब बमबाज गुड्डू मुस्लिम को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है।जानकारी के मुताबिक अतीक का यह बमबाज हिंदू नामों के साथ फरारी काट रहा है।गुड्डू मुस्लिम हिंदू नाम रखकर अपनी लोकेशन बदल रहा है और एसटीएफ को चकमा दे रहा है।गुड्डू मुस्लिम फरारी के दौरान तीन नामों का इस्तेमाल कर रहा है- बबलू, सुरेंद्र कुमार और संदीप कुमार।

 

*पुलिस को हर बार चकमा दे रहा है गुड्डू मुस्लिम*

 

जानकारी के मुताबिक गुड्डू मुस्लिम हनुमान चालीसा और गायत्री मंत्र भी अच्छी तरह से जानता है। इसी का फायदा उठाकर वह लगातार पुलिस और एसटीएफ को चकमा देने में कामयाब रहा है। पुलिस लगातार गुड्डू मुस्लिम तक पहुंचने की कोशिश कर रही है ।

 

बसपा विधायक राजू पाल हत्याकांड के मुख्य गवाह उमेश पाल और उसके दो सुरक्षाकर्मी की हत्या के मामले में पुलिस को गुड्डू मुस्लिम की तलाश है। उमेश पाल हत्याकांड के चार आरोपी पुलिस एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं,जिनमें अतीक अहमद का बेटा असद भी शामिल है। वहीं अतीक और अशरफ की हत्या हो चुकी है। इस बीच अतीक के खास बमबाज शूटर गुड्डू मुस्लिम की तलाश में एसटीएफ की टीम पूरा जोर लगाए हुए है लेकिन हर बार वह चकमा देकर फरार हो जा रहा है।

 

पुलिस को पता चला था कि गुड्डू मुस्लिम की आखिरी लोकेशन ओडिशा के बरगढ़ में थी। गुड्डू मुस्लिम 2 से 13 अप्रैल तक ओडिशा में मौजूद था और लगभग 12 दिन से राज्य में छिपा हुआ था। गुड्डू मुस्लिम यहां कपड़े से भरा बैग छोड़कर फरार हो गया।यहां से पुलिस ने गुड्डू मुस्लिम के सहयोगी राजा खान को भी हिरासत में लिया, जिसने खुलासा किया कि वह पुलिस की पकड़ में न आए इसलिए उसने दाढ़ी बढ़ा ली थी।इन 62 दिनों में उसने बबलू, सुरेंद्र कुमार और संदीप कुमार जैसे नामों का इस्तेमाल किया।

 

*अभी कहां हो सकता है गुड्डु मुस्लिम*

 

राजा खान ने पुलिस को बताया कि मेरठ, अजमेर, झांसी, नासिक और पुणे जैसी जगहों पर जाने के बाद अब गुड्डू मुस्लिम छत्तीसगढ़ भाग गया है। इसके अलावा गुड्डू मुस्लिम को जानने वालों ने दावा किया कि अतीक के पास उमेश पाल को मारने का कोई कारण नहीं था।गुड्डू ने ही पूरी हत्या की साजिश रची थी। सूत्रों ने बताया कि जब अतीक और उसका भाई अशरफ जेल में थे, तब उनका पूरा कारोबार गुड्डू मुस्लिम के हाथों में था और इस दौरान उसने कोयला आपूर्ति सहित कई व्यवसायों में चोरी-छिपे पैसा लगाया था।

 

*अलर्ट मोड पर सारंगढ़ पुलिस*

 

एसटीएफ को गुड्डू मुस्लिम की आखिरी लोकेशन ओडिशा और छत्तीसगढ़ के बॉर्डर पर स्थित सोहेला इलाके में मिली है, जोकि छत्तीसगढ़ के सारंगढ़-बिलाईगढ़ जिले के पास है।इस लिए सारंगढ़ पुलिस अलर्ट मोड में आ गई है।पुलिस ने सरिया थाना क्षेत्र से लेकर डोंगरीपाली थाना तक सुरक्षा बढ़ा दी है। सभी गाड़ियों की चेकिंग चल रही है।