October 23, 2020

हाथरस में पीडिता के भाई बयान के आधार पर अभियोग पंजीकृत किया गया आरोपी जेल भेजे गए- अजय मिश्रा

Spread the love

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार

का बयान

 

 

हाथरस में पीडिता के भाई बयान के आधार पर अभियोग पंजीकृत किया गया आरोपी जेल भेजे गए

 

Sit जांच के आदेश हुके ,सीबीआई जांच की भी अनुशंसा की गई

 

इसके बावजूद कुछ संगठनो द्वारा जातीय सम्प्रदायिक हिंसा फैलाने सरकार की छवि खराब करने का काम किया गया

 

वेबसाइट का इस्तेमाल करके पीड़ित परिवार के घर गांव के पास अनावश्यक भीड़ इकट्ठी की गई

 

झूठ के द्वारा उन्माद फैलाने का काम किया जा रहा है

 

कोविड प्रोटोकॉल का ध्यान रखते हुए 5 लोगों को ही राजनैतिक दलों से जाने की अनुमति ही दिया गया था

 

फिर भी उसका उल्लंघन करते हुए कल हिंसा पर वे उतारू हुए जिनपर हल्का बल प्रयोग किया गया

 

 

सोशल मीडिया पर मैसेज साम्प्रदायिक उन्माद फैलाने में अभियोग ,भीड़ इकट्ठी करने वालों पर भी मुकदमे लिखा गया है

 

हाथरस थाना चंदपा में 151/2020 4 तारीख को 109,120b,153 में ,195 ,465,469,501,505,आईटी एक्ट के तहत भी मुकदमे लिखे गए हैं

 

 

कुछ अराजक तत्वों द्वारा जातीय विद्वेष फैलाने पीड़ित परिवार को भड़काने,50 लाख का प्रलोभन देने के सम्बंध में दर्ज किया गया

 

 

दूसरा अभियोग 152 में जो अधिकारी ड्यूटी पर थे उनके साथ मारपीट करने बैरिकेडिंग तोड़ने 144 का उल्लंघन करने के लिए है

 

एक अन्य मुकदमा 153/2020 में राजनीतिक दलों पर

154/2020 में भी मुकदमा है 84c आईटी एक्ट में हाथ काटने पुलिस अधिकरियों को निलंबित कराने के सम्बंध में अभियोग है

 

 

इसके अतिरिक्त शासनी थाने में अभियोग है कुछ राजनीतिक दल के समर्थक 400 से 500 लोगों के द्वारा यातायात जाम करने

 

 

354/2020 हाथरस में कायम किया गया है एक सनी मुकदमा लगभग 200 लोगों को इक्कठा करने में

 

 

जनपद बिजनौर,बुलंदशहर, अयोध्या,हाथरस,लखनऊ कमिश्नरेट में 13 अभियोग है जिनमे 5 गिरफ्तार किए गए हैं

 

कल एक विवादित पोस्टर लगाने में हजरतगंज लखनऊ में अभियोग लिखा गया थ जिसमे 2 पकड़े गए हैं लखनऊ ग्रामीण में भी कुछ लोग गिरफ्तार हुए हैं

 

मथुरा में भी अभियोग लिखा गया है

 

दोषियों के ऊपर कठोर करवाई करने में प्रतिबद्ध हैं हम

 

महिला सम्बन्धी अपराधों में सजा दिलाने में अन्य राज्यों के मुकाबले सजा दिलाने में यूपी आगे रहा महिला अपराधों में कमी आई है

 

जो मुख्य अभियोग हैं वो हाथरस में हैं उनकी संख्या 6 है

 

एक षड्यंत्र हैं उसके बारे में विवेचना शुरू कर दी गई है गिरफ्तारी की जाएंगी

 

साक्ष्य इकट्ठे करने के बाद ही आगे की कार्यवाही की जाएगी

 

जो भी साक्ष्य मिल रहे हैं हम उनपर कार्रवाई कर रहे हैं

 

बहुत व्यक्ति विशेष के बारे में अभी कुछ नहीं कहना उचित है ,जब पूरे साक्ष्य मिल जाएंगे तब कुछ कहा जाएगा