समाहरणालय सभाकक्ष में एक बैठक शनिवार को हुई

Spread the love

सरायकेला. क्वारेंटाइन सेंटर में उपलब्ध सामग्री एवं विधि व्यवस्था के संबंध में डीसी ए दोड्डे के अध्यक्षता में समाहरणालय सभाकक्ष में एक बैठक शनिवार को हुई । बैठक में डीसी ने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारियों को निर्देश दिया कि क्वारेंटाइन सेंटर लोगों को किसी तरह की परेशानी ना हो ।वहां टीवी, मोबाइल चार्जर व शौचालय की सुविधा निश्चित रूप से रहना चाहिए। टेस्ट के दौरान पॉजिटिव मामले आते हैं तो जिला द्वारा तैयार टीम पूरी तरह से एक्टिव हो जाएगी। डीसी ने कहा कि ग्रामीण स्तर पर करोड़ों वालंटियर बनाने की आवश्यकता है। यदि कोई व्यक्ति नेगेटिव पाए जाता है और उनके घर वाले उन्हें घर से बहिष्कार करते हैं, तो उन पर उचित कार्रवाई की जाएगी। डीसी ने कहा- मजदूरों को घर भेजने के लिए गाडि़यों की व्यवस्था की जाएडीसी ने कहा कि प्रवासी मजदूरों का जिले में आगमन के समय सैंपल कलेक्शन करते हुए क्वारेंटाइन सेंटर भेजा जा रहा है। परंतु जिनका टेस्ट नेगेटिव निकल रहा है ऐसे मजदूरों को होम क्वारेंटाइन करने के लिए घर भेज दिया जाए। डीसी ने कहा कि मजदूरों को उनके घर तक भेजने के लिए वाहन की व्यवस्था भी कराएं। किसी भी परिस्थिति में उन्हें पैदल जाने नहीं दे।एसपी ने थाना प्रभारियों को समन्वय स्थापित कर कार्य करने का कहा
सभी थाना पदाधिकारियों को आपसी समन्वय स्थापित कार्य करने का निर्देश एसपी मोहम्मद अर्शी द्वारा दिया गया है। सभी जनप्रतिनिधियों के साथ लगातार संपर्क में रहें और कोई भी व्यक्ति भूखा ना हो। बाहर आने- जाने वाले सभी व्यक्तियों की सूचना अपने पास रखें । बुजुर्ग -असहाय व्यक्तियों को खानपान की सामग्री उपलब्ध कराएं।
उद्योगपतियों ने कहा- वापस लौटे मजदूरों को देंगे रोजगार
प्रवासी मजदूरों को जिले में रोजगार उपलब्ध कराने के संबंध में डीसीए ए दोड्डे की अध्यक्षता में शनिवार को समाहरणालय सभाकक्ष में उद्योगपतियों के साथ एक महत्वपूर्ण बैठक हुई। बैठक में डीसी ने जिले में संचालित सभी इंडस्ट्री संचालकों को से कहा कि अधिक से अधिक मजदूरों को रोजगार दिया जाए । इस पर इंडस्ट्री संचालकों द्वारा जिला प्रशासन को आश्वस्त कराया गया कि सभी प्रवासी मजदूरों को शत प्रतिशत रोजगार देने का कार्य करेंगे । बैठक में कुछ उद्योगपतियों ने आईडी कार्ड के लिए के लिए अपना सुझाव दिया तथा यात्री वाहनों के आवागमन के संबंध में अपना प्रस्ताव रखा। इस पर डीसी द्वारा बताया गया कि रविवार इस दिशा में सरकार कुछ निर्णय लेती है तो हमारे जिले में भी इसका अनुपालन किया जाएगा। क्योंकि यात्री बाहर नहीं चलेंगे तो मजदूरों का आना- जाना नहीं हो पाएगा। डीसी ने कहा कि हर हाथ को काम मिलेगी इसके लिए जिले में मनरेगा द्वारा संचालित योजनाओं का क्रियान्वयन चालू कर दिया गया है। किसी भी परिस्थिति में मजदूर निराश नहीं होंगे उन्हें रोजगार दिलाने के लिए प्रशासन प्रयास करेगी।

Leave a Reply