October 23, 2020

सभी सरकारी गैर सरकारी अधिकारियों/कर्मचारियों को कोविड हेल्प डेस्क का दिया गया प्रशिक्षण*

Spread the love

*समस्त सरकारी एवं गैर सरकारी विभागों के अतिरिक्त होटल, माल, आदि के अधिकारी/कर्मचारियों को कोविड हेल्प डेस्क के क्रियांवयन हेतु दिया गया प्रशिक्षण*

*हेल्प डेस्क कोविड-19 पर एक रजिस्टर उपलब्ध होगा, जिसमें प्रत्येक आने जाने वालों का उसमें डिटेल भरी जायेगी तथा यह भी सुनिश्चित किया जायेगा कि सभी आने वाले व्यक्तियों के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप अनिवार्य रूप से स्टाल हो*

कोविड-19 के दृष्टिगत शासन द्वारा दिए निर्देश के अनुपालन में स्थापित किए गए कोविड हेल्प डेस्क के क्रियांवयन हेतु शुक्रवार को जिला राइफल क्लब सभागार में अपर जिलाधिकारी (नगर) गुलाब चंद्र की अध्यक्षता में प्रशिक्षण कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। जिसमें समस्त सरकारी एवं गैर सरकारी विभागों के अतिरिक्त होटल, माल, आदि के अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे। चिकित्सा विभाग की टीम द्वारा प्रशिक्षण दिया गया।
उक्त प्रशिक्षण में चिकित्सा विभाग की टीम द्वारा बताया गया कि सभी कार्यालय में कोविड 19 हेल्प डेस्क की स्थापना अनिवार्य है। उक्त हेल्प डेस्क पर कार्यरत कर्मचारीयों द्वारा एन 95 मास्क तथा हैन्ड सेनिटाइजर, हैन्ड गल्वस का उपयोग किया जायेगा इसके अतिरिक्त सोशल डिस्टेंशिंग का पालन किया एवं कराया जायेगा। हेल्प डेस्क पर लगे कर्मचारियों की ड्यिटी प्रत्येक 2 दिन के बाद बदलना प्रासंगिक होगा। हेल्प डेस्क कोविड-19 पर एक रजिस्टर उपलब्ध होगा, जिसमें प्रत्येक आने जाने वालों का उसमें डिटेल भरी जायेगी तथा यह भी सुनिश्चित किया जायेगा की सभी आने वाले व्यक्तियों के मोबाइल में आरोग्य सेतु एप अनिवार्य रूप से स्टाल हो। हेल्प डेस्क कोविड-19 पर थर्मल स्कैनिंग, पल्स रेट मांपने की मशीन एवं सेनीटाइजर आवश्यक रूप से उपलब्ध रहे। थर्मल स्कैनिग करते समय दूरी 1 से 14 सेंटीमीटर की दूरी का पालन किया जाना चाहिए। स्वस्थ व्यक्ति के शरीर का पल्स रेट मशीन से 70 से 100 तथा तापमान 95 से 100 ;वद्धि तक होना चाहिए। उक्रोक्त से अधिक पल्स एवं तापमान पाये जाने पर उन्हें चिकित्सीय सलाह हेतु भेजा जाना चाहिये। कोविड हेल्प डेस्क के क्रियांवयन हेतु चिकित्सा विभाग के डा0 आर0पी0के0 सोलंकी, डा0 अतुल सिंह एवं चन्द्र मोहन द्वारा प्रशिक्षण दिया गया।