January 24, 2021

शिया और सुन्नी दोनों बोर्डो के सी० ई० ओ० को मिली प्रतिकूल प्रविष्टि- अजय मिश्रा

Spread the love

*शिया और सुन्नी दोनों बोर्डो के सी० ई० ओ० को मिली प्रतिकूल प्रविष्टि*

 

प्रदेश सरकार के अल्पसंखयक कल्याण मंत्री नन्द गोपाल गुप्ता नन्दी ने बुधवार दिनांक 6/01/2021 को सचिवालय स्थित कार्यालय कक्ष में अल्पसंखयक कल्याण विभाग के उच्य अधिकारियों के साथ विभागीय समीक्षा बैठक की।।

 

 

मंत्री ने बैठक में शिया बोर्ड के सी० ई० ओ०(मुख्य कार्यपालक अधिकारी) डॉ. मोहम्मद नसिर हसन और सुनी बोर्ड के सी० ई० ओ०(मुख्य कार्यपालक अधिकारी) सैय्यद मोहम्मद सोयेब को कार्य में शिथिलता के चलते प्रतिकूल प्रविष्टि दिया।

 

*मंत्री नन्दी ने शिया और सुन्नी बोर्ड के अधिवक्ताओं को व्वाफ बोर्ड वादों के पैरवी में लापरवाही पाये जाने के बाद हटाने के निर्देश दिए*

 

मंत्री ने लगभग 1100 वक्फ़ बोर्ड की संपत्तियों पर अवैध कब्जों शीघ्र-अतिशीघ्र हटाये जाने के निर्देश दिए।

 

मंत्री नन्दी ने एंटी भू माफिया टास्क फोर्स लिस्ट में वक्फ़ की प्रॉपर्टी को जोड़ने के दिये निर्देश।

 

प्राविधिक शिक्षा और व्यावसायिक शिक्षा विभागों के पास आई0टी0आई0 और पाॅलीटेक्निक के उपकरण एवं मशीनरी की धनराशि को जल्द से जल्द आई टी आई एवम् पॉलीटेक्निक के डायरेक्टर के साथ बैठक कर संचालित करने के निर्देश दिए।

 

सॉफ्टवेयर पर फीड किए गए विवरण को विभागीय वेबसाइट से जियो टैगिंग और जियो मैपिंग से लिंक किए जाने में तेजी लाने के निर्देश दिये।

 

*मंत्री नन्दी ने मदरसा नियामवली में हो रही देरी पर जताई नाराजगी*।।

 

 

 

मंत्री ने मदरसा बोर्ड की कामिल और फाजिल डिग्रियों को शिक्षा विभाग की डिग्रियों की समतुल्यता हेतु प्रस्ताव शासन को जल्द से जल्द भेजे जाने के निर्देश दिये।

 

मंत्री ने अपने अधिकारियों को कहा कि भारत सरकार द्वारा संचालित नई रोशनी, उस्ताद तथा सीखो कमओ आदि योजनाओं के तहत प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थियों को दिये जा रहे ऋण में प्राथमिकता दी जाए। नये लक्ष्य तय किये जाए तथा ज्यादा अभ्यर्थियों का चयन किये जाएं।

 

नन्दी ने अल्पसंख्यक वित्त विकास निगम द्वारा नोएडा में ट्रेनिंग इस्टीट्यूट में ट्रेनिंग सुविधा तत्काल प्रभाव से शुरू करने के निर्देश दिया।

 

इस दौरान प्रमुख सचिव बी० एल० मीणा, विषेश सचिव डी० एस० उपाध्याय व जे० पी० सिंह, रजिस्टार मदरसा शिक्षा परिषद आर० पी० सिंह और ज्वाइंट डायरेक्टर शेषनाथ पाण्डेय एवं अन्य अधिारीगण मौजुद रहे।