October 23, 2020

विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा प्रदेशव्यापी प्रस्तावित आंदोलन के दृष्टिगत विद्युत आपूर्ति सुचारू रखने हेतु मुख्य सचिव द्वारा वीडियो काॅन्फ्रेन्सिंग-अजय मिश्रा

Spread the love

विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा प्रदेशव्यापी प्रस्तावित आंदोलन के दृष्टिगत विद्युत आपूर्ति सुचारू रखने हेतु मुख्य सचिव द्वारा वीडियो काॅन्फ्रेन्सिंग के माध्यम से सभी मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक सम्पन्न

सुचारू विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने के लिए मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को दिये गये दिशा-निर्देश

आंदोलन से निपटने के लिए सभी तैयारियाँ पूरी

सुचारू विद्युत आपूर्ति में बाधा उत्पन्न करने वाले कर्मचारियों के विरूद्ध की जायेगी कठोर कार्यवाई

विद्युत सब स्टेशनों एवं विद्युत केन्द्रों में वैकल्पिक स्टाॅफ व सुरक्षा बलों की तैनाती की कार्य योजना तैयार

सभी जनपदों में राउण्ड-द-क्लाॅक कण्ट्रोल रूम स्थापित एवं क्रियाशील

जनता से संवाद बनाये रखेंगे अधिकारी तथा आंदोलन के कारण जन सामान्य को नही होने देंगे कोई परेशानी

सुचारू विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित किये जाने हेतु किये गये सभी जरूरी इंतजाम

राजेन्द्र कुमार तिवारी
मुख्य सचिव

दिनांक: 04 अक्टूबर, 2020

लखनऊ: विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा प्रदेशव्यापी प्रस्तावित आंदोलन के दृष्टिगत प्रदेश में विद्यु आपूर्ति सुनिश्चित किये जाने के सम्बंध में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी द्वाराा वीडियो काॅन्फ्रेंन्सिंग के माध्यम से समस्त मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की गई जिसमें जरूरत पड़ने पर वैकल्पिक स्टाॅफ की तैनाती, क्रिटिकल एवं संवेदनशील विद्युत सब स्टेशनों का चिन्हीकरण व तद्नुसार सुरक्षा बल की तैनाती, कण्ट्रोल रूम की स्थापना व उसमें चौबीस घण्टे कार्मिकों की तैनाती, आवश्यक मशीनरी एवं उपकरणों की उपलब्धता आदि की विस्तार से समीक्षा की गई।

मुख्य सचिव ने बताया कि विद्युत कर्मचारी संयुक्त संघर्ष समिति द्वारा प्रदेशव्यापी प्रस्तावित आंदोलन से निपटने के लिए सभी आवश्यक तैयारियों पूरी कर ली गई हैं तथा सुचारू विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित किये जाने हेतु सभी जरूरी इंतजाम पूरे कर लिए गये हैं।

उन्होंने बताया कि यदि विद्युत कर्मी कार्य बहिष्कार करते हैं तो वैकल्पिक स्टाॅफ की तैनाती का प्लान तैयार है। सभी जनपदों में क्रिटिकल एवं संवेदनशील विद्युत सब स्टेशनों चिन्हीकरण कर लिया गया है तथा तद्नुसार जरूरी स्टाॅफ एवं सुरक्षा के प्रबंध किये गये हैं।

उन्होंने कहा कि जनता से संवाद बनाये रखेंगे अधिकारी तथा आंदोलन के कारण जन सामान्य को किसी भी प्रकार की कठिनाई व परेशानी नही होने देंगे। शासन सामान्य विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित कराने हेतु कृत संकल्पित है तथा इसके लिए सभी जरूरी इंतज़ाम किये गए हैं।

उन्होंने कहा कि जो भी विद्युत कार्मिक ड्यूटी पर रहेंगे, उन्हें पूरी सुरक्षा प्रदान की जायेगी तथा सुचारू विद्युत आपूर्ति में बाधा उत्पन्न करने वाले व्यक्तियों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जायेगी। इसके अलावा जलापूर्ति, संचार माध्यम हाॅस्पिटल, अन्य जरूरी व संवेदनशील व आवश्यक सेवायें बाधित न हों, इसे सुनिश्चित कराने के सभी जरूरी इंतजाम किये गये हैं। उन्होंने मण्डलायुक्तों, जिलाधिकारियों एवं वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों से सतत निगरानी के साथ-साथ वर्कशाॅप एवं स्टोर्स में दक्ष स्टाॅफ एवं सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करने तथा जरूरतों का आकलन कर आवश्यक मशीनरी एवं उपकरणों आदि की उपलब्धता भी सुनिश्चित कराने को कहा।

बैठक में अपर मुख्य सचिव ऊर्जा अरविन्द कुमार, सचिव गृह सहित पाॅवर काॅरपोशन के वरिष्ठ अधिकारीगण आदि उपस्थित थे। बैठक के प्रारंभ में मुख्य सचिव ने मण्डल/जनपदवार की गई तैयारियों, व्यवस्थाओं एवं स्टाॅफ व सुरक्षा बलों की तैनाती आदि की विस्तार से समीक्षा की तथा जरूरी दिशा-निर्देश दिये। बैठक का संचालन अपर मुख्य सचिव ऊर्जा अरविन्द कुमार द्वारा किया गया।