May 25, 2022

विकास कार्य धरातल पर नजर आने चाहिए- केशव प्रसाद मौर्य-

Spread the love

*विकास कार्य धरातल पर नजर आने चाहिए- केशव प्रसाद मौर्य*

 

 

उत्तर प्रदेश के उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने ग्राम्य विकास विभाग से जुड़े हुए अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए हैं कि वह सरकार द्वारा संचालित जनकल्याणकारी कार्यक्रमों व नीतियों की जानकारी आम जनमानस दें ताकि अधिकाधिक लोग योजनाओं का भरपूर लाभ उठा सकें ।

मुख्य विकास अधिकारी आगरा को निर्देश दिए कि वह विकास योजनाओं से जुड़े अधिकारियों का वाट्सअप ग्रुप बनायें और उसमें जनप्रतिनिधियों को भी जोड़कर विकास कार्यों के साथ-साथ अन्य महत्वपूर्ण विकास सम्बन्धी क्रियाकलापों को शेयर करें तथा योजनाओं की लांचिंग या अन्य विकास सम्बन्धी विशेष कार्यक्रमों में जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित करें। उन्होंने कहा कि जनप्रतिनिधियों से समन्वय बनाकर विकास कार्यों को धरातल पर उतारा जाय। केशव प्रसाद मौर्य सर्किट हाउस आगरा में ग्राम्य विकास विभाग व अन्य संबंधित अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में विकास कार्यों की समीक्षा कर रहे थे ।

उन्होंने निर्देश दिए कि चारागाहों व तालाबों से अवैध कब्जे हटवाए जाएं ।चारागाहों से गोवंश को चारा उपलब्ध कराने में मदद मिलेगी ।उन्होंने तालाबों को अमृत सरोवर के रूप में विकसित करने के निर्देश दिए। छुट्टा गोवंश के आश्रय स्थलों की स्थापना सर्वाेच्च प्राथमिकता के आधार पर करने के निर्देश दिए। गर्मी को देखते हुए पशुओं के लिये पानी की उचित व्यवस्था करने के भी निर्देश दिए। उन्होंने लोगों को शुद्ध पानी की उपलब्धता सुनिश्चित कराने पर विशेष बल दिया। उन्होंने महिला स्वयं सहायता समूहों का गठन कर महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने की आवश्यकता पर बल दिया और कहा कि पोषाहार बनाने व वितरण का कार्य महिला स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से कराने की व्यवस्था सुनिश्चित की जाए,कई जगह यह कार्य किया जा रहा है, जिसके अच्छे परिणाम मिल रहे हैं, इससे पोषाहार में गुणवत्ता तो रहेगी ही, साथ ही समय से निर्धारित स्थलों पर उसे पहुंचाया भी जायेगा। उन्होंने कहा इसके लिए सक्रिय और निष्क्रिय समूह का आंकलन एवं मूल्यांकन भी समय-समय पर किया जाए। उपमुख्यमंत्री ने शासन द्वारा संचालित योजनाओं का क्रियान्वयन पूरी गतिशीलता और समयबद्धता के साथ करने के निर्देश दिए।