October 19, 2021

वाराणसी BHU के कुलाधिपति बने जस्टिस गिरधर मालवीय……

Spread the love

भारत रत्न महामना पंडित मदन मोहन मालवीय जी के पौत्र न्यायमूर्ति गिरिधर मालवीय बीएचयू के नए कुलाधिपति होंगे। सोमवार को बीएचयू के केंद्रीय कार्यालय में कुलपति प्रो. राकेश भटनागर की अध्यक्षता में हुई कोर्ट की बैठक में एक्जीक्युटिव कौंसिल के सदस्यों ने जस्टिस मालवीय के नाम पर मुहर लगाई। कुलाधिपति के लिए जैसे ही न्यायमूर्ति मालवीय का नाम आया, सदस्यों ने करतल ध्वनि से अपनी सहमति प्रकट कर दी। इसके बाद अन्य किसी नाम पर चर्चा ही नहीं हुई। इससे पहले सन-2016 तक डॉ. कर्ण सिंह बीएचयू के कुलाधिपति थे।
बीएचयू के छठें चांसलर जस्टिस गिरिधर मालवीय महामना के पुत्र पं. गोविंद मालवीय के पुत्र हैं। पं. गोविंद मालवीय पचास के दशक में बीएचयू के कुलपति थे। गिरिधर मालवीय सन-1988 से 1998 तक इलाहाबाद हाईकोर्ट में जज रहे।
कुलाधिपति के प्रमुख दावेदारों में पूर्व काशी नरेश और बीएचयू के आजीवन चांसलर रहे स्व. डॉ. विभूति नारायण सिंह के पुत्र अनंत नारायण सिंह, सांसद डॉ. मुरली मनोहर जोशी के अलावा बीएचयू के पूर्व कुलपति प्रो. हरि गौतम, प्रो. वाईसी सिम्हांद्री तथा प्रो. पंजाब सिंह के नामों की चर्चा चल रही थी। सुबह 11 बजे से शुरू होकर अपराह्न तीन बजे तक चली कोर्ट की बैठक में सदस्यों ने एक स्वर से गिरधर मालवीय के नाम का चयन किया।
कुलाधिपति के लिए जब चुनाव की बात आयी तब आठ लोगों ने अपने कैंडीडेट का नाम वापस ले लिया। इसके बाद तीन नाम बचे जिसमें करीब 37 लोगों ने गिरधर मालवीय का नाम लिया। कोर्ट की बैठक में विश्वविद्यालय के विकास सहित कई मुद्दों पर भी चर्चा हुई। विभिन्न राज्यों के कुल 40 सदस्य कोर्ट की बैठक में शामिल हुए। कार्यकारिणी परिषद के सभी आठ सदस्य भी उपस्थित थे। बीएचयू कोर्ट की बैठक में सुबह से ही कुलाधिपति के चुनाव को लेकर काफी गहमा-गहमी रही। बीएचयू सर सुंदरलाल अस्पताल के एमएस प्रो. वीएन मिश्र को बीएचयू कोर्ट का आमंत्रित सदस्य बनाया गया है।
बीएचयू के छठें कुलाधिपति बने न्यायमूर्ति
न्यायमूर्ति गिरिधर मालवीय बीएचयू के छठें कुलाधिपति होंगे। सन-1916 में बीएचयू के संस्थापक कुलाधिपति कृष्ण राज वाड़ियार रहे। इसीक्रम में सर सयाजीराव गायकवाड, बीकानेर के महाराजा गंगा सिंह बहादुर, महाराजा बनारस विभूति नारायण सिंह तथा डॉ. कर्ण सिंह इस पद की शोभा बढ़ा चुके हैं।