October 21, 2021

वाराणसी: समाजवादी सरकार में पुलिस कम्प्लेन लिखवाने में भी डरती थी आम जनता : पीयूष गोयल

Spread the love

वाराणसी: ‘मुझे लगता है शायद आप लोग भूल रहे हैं कि इतने वर्षों तक उत्तर प्रदेश के लोग पुलिस कम्प्लेन भी लिखवाने में डरते थे। योगी महाराज जी की उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने के बाद पूरे प्रदेश में जो लॉ एन्ड ऑर्डर सुधरा है उसे पूरा उत्तर प्रदेश समझता है।’ ये बातें केंद्रीय मंत्री पीयूष गोयल ने शनिवार हुई गाज़ीपुर में सिपाही की भीड़ द्वारा ह्त्या किये जाने के सवाल के ऊपर कही। उन्होंने कहा कि समाजवादी सरकार के ज़माने में दिनदहाड़े मर्डर होते थे। उन्होंने गाजीपुर और बुलंदशहर की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया।केन्द्रीय रेल एवं कोयला मंत्री पीयूष गोयल बदल लालपुर स्थित ट्रेड फेसिलिट सेंटर में वाराणसी ब्रांच ऑफ़ सीआईआरसी ऑफ़ आईसीएआई एवं बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के संयोक्त तत्वाधान में आयोजित प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र के चार्टेड एकाउंटेंट से संवाद के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अथिति पहुंचे थे।केन्द्रीय मंत्री पीयूष गोयल से जब सवाल किया गया कि कही न कहीं बुलंदशहर और गाजीपुर की घटना से लोगों के दिल में डर बैठ गया है के जवाब में उन्होंने कहा कि जिस प्रकार से इतने वर्षों तक एक सरकार के रहने के दौरान आम जनता पुलिस कम्प्लेंन करने में भी डरती थी। उन्होंने कहा कि जब मै 2017 के चुनाव में मै चुनाव प्रचार के लिए आया तो, जिस दिन मै लखनऊ पहुंचा उसी दिन एक व्यापारी की दिन दहाड़े राजधानी लखनऊ में ह्त्या कर दी गयी।मंत्री पीयूष गोयल ने कहा कि मै एक महीना चुनाव प्रचार में रहा। उस दौरान मुरादाबाद में एक दूध व्यापारी का क़त्ल हुआ और सहारनपुर का किस्सा भी। उस समय प्रदेश में समाजवादी सरकार थी। योगी महराज के उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद प्रदेश का लॉ एंड आर्डर सुधरा है यह उत्तर प्रदेश के लोग समझते हैं।उन्होंने कहा कि योगी शासन में पूर्व में जो अवैध काम होते थे, जो लोगों की ज़मीने कब्ज़ा होती थी। सब खत्म हुआ है। इस शासन में अपराधी जेल के पीछे रहना चाहते हैं जेल के बाहर नहीं। वहीं उन्होंने बुलंदशहर और गाजीपुर की घटना को दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि शायद कुछ तत्व हैं जो वातावरण को बिगड़ने की कोशिश कर रहे हैं, जिस वजह से ऐसे हालात उत्पन्न हो रहे हैं। ऐसे लोगों पर पुलिस के साथ साथ राज्य सरकार भी नज़र रखे हुए है दोषियों के विरुद्ध कड़ी से कड़ी कार्रवाई होगी।

www.mvdindianews.in