May 18, 2024

वाराणसी में NGO संचालिका और कांग्रेस की प्रवक्ता के साथ मारपीट और रंगदारी मांगने का मामला आया सामने-

Spread the love

*वाराणसी में NGO संचालिका और कांग्रेस की प्रवक्ता के साथ मारपीट और रंगदारी मांगने का मामला आया सामने*

वाराणसी में एक NGO संचालिका और कांग्रेस की प्रवक्ता के साथ मारपीट की घटना सामने आई है। सोशल मीडिया पर बवाल बढ़ने के बाद इस मामले में वाराणसी पुलिस ने 24 घंटे के बाद 7 नामजद और 1 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज का लिया है।पीड़िता ने कहा कि राजभर बहुल समाज में आश्रय बनवाने के लिए 20 लाख रुपए देने से इनकार कर दिया। इसके चलते हमें मारा गया, क्योंकि हम क्षत्रिय हैं।

काली स्कार्पियों से आए थे हमलावर

आरोप है कि 26 जनवरी को सारनाथ थाना के पहाड़िया स्थित NGO सचांलिका सृष्टि कश्यप के घर और शेल्टर पर 100 लोगों ने अचानक धावा बोल दिया। वे लोग कुछ महिलाओं को लेकर काली स्कॉर्पियो में आए थे। मुझे मारा गया। इसमें बीजेपी के कुछ लोकल नेताओं के भी नाम हैं। सृष्टि ने कहा कि उनको और उनकी मां को दिन-दहाड़े पुलिस के सिपाहियों के सामने मारा-पीटा गया। कपड़े फाड़े। पत्थर उठाकर फेंका गया। मारपीट के दौरान जब सृष्टि ने सवाल करते हुए वीडियो बनाया, तो उसके साथ बदसलूकी की गई। पुलिस वालों का नाम पूछा, तो एक सिपाही ने जवाब दिया ”अपनी इंग्लिश अपने पास रखिए। कौन हो तुम, जो मैं अपना नाम तुम्हें बताऊं।”

‘हत्या हुई तो वाराणसी पुलिस जिम्मेदार होगी’

सृष्टि ने कहा कि मेरे और मां के साथ हत्या छोड़कर सब कुछ हो गया। यदि मेरी हत्या होती है, तो इसके पीछे वाराणसी पुलिस ही जिम्मेदार होगी। सारनाथ पुलिस ने 24 घंटे बाद मामले को दर्ज कर आरोपियों की तलाश में जुटी है। सृष्टि ने कहा कि उनके पास एक-एक गतिविधि के वीडियो हैं। उनका आरोप है कि रंगदारी के 20 लाख रुपए न देने की वजह से उनके साथ मारपीट की गई। वहीं, हम लोग क्षत्रिय हैं और रंगदारी मांगने वाले राजभर समाज के लोग हैं। वे लोग इस राजभर बहुल समाज में आश्रय खोलने के लिए 20 लाख रुपए मांग रहे थे। जब हमने पैसे देने से इनकार किया तो 10 दिन तक मेरे घर की बिजली काट दी गई।

 

मुझे ओबामा ने भी दी है मान्यता

सृष्टि ने कहा कि मैं एक प्रतिष्ठित व्यवसायी हूं। मुझे अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने भी मान्यता दी है। पद्मश्री और बिहार रत्न पुरस्कार प्राप्त परिवारों से आती हूं। मैंने अपना जीवन सामाजिक कार्याें के लिए समर्पित कर दिया है।

 

वाराणसी में इन लोगों पर दर्ज हुई FIR

भूपेंद्र मिश्र, राजेश, रीमा मिश्रा, उपेंद्र मिश्रा, लक्ष्मीना, लक्ष्मीना का बेटा, रीमा के पति और 1 अज्ञात के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया। इनके एड्रेस या प्रोफेशन के बारे में कोई जानकारी पुलिस के पास नहीं है।