May 25, 2022

वाराणसी में भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में लगी आग, दस्तावेज और कई कम्प्यूटर जलकर खाक –

Spread the love

वाराणसी में भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में लगी आग, दस्तावेज और कई कम्प्यूटर जलकर खा

 

वाराणसी। कचहरी स्थित स्टेट बैंक आफ इंडिया (एसबीआई) की मुख्य शाखा में सोमवार सुबह आग लग गयी। सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड की गाड़ियां मौके पर पहुंचकर आग पर काबू पाया।आग लगने के कारण का पता लगाया जा रहा है। फायर ब्रिगेड का मानना है कि शार्ट सर्किट से आग लगी है। आग से हुए नुकसान का आंकलन बैंक के अधिकारी रहे हैं। आग से लड़ने वाले उपकरणों की भी जांच की जा रही है। इसके पहले भी बैंक की इमारत में आग लग चुकी है जिसमें लाखों का नुकसान हुआ था।

 

 

 

रोजमर्रा की तरह कचहरी स्थित भारतीय स्टेट बैंक की मुख्य शाखा में सुबह बैंक परिसर की साफ-सफाई चल रही थी। कुछ घंटों बाद बैंक खुलना था और कर्मचारी आने वाले थे इसे लेकर तैयारी चल रही थी। इसी दौरान सफाईकर्मियों की नजर पहली मंजिल पर पड़ी। खिड़कियों से धुआं निकलते देख घबरा गए। सफाईकर्मियों और सुरक्षा में तैनात गार्ड ने इसकी सूचना बैंक अधिकारियों के साथ ही कैंट पुलिस और फायर ब्रिगेड दी। थोड़े ही वक्त में फायर ब्रिगेड गाड़ियां आ पहुंची और आग को काबू करने का प्रयास शुरू हो गया। आग को काबू में आते देख फायर ब्रिगेड की छह गाड़ियों को मौके पर बुलाया गया। काफी मशक्कत के बाद आग को काबू किया जा सका।

 

के डीमेट और एसबी लाइव और एनआरआई सेक्शन में लगी थी। इसमें ढेरों फाइलें और कम्प्यूटर आदि थे। इनमें से काफी आग की चपेट में आ गए। सूचना मिलने पर पहुंचे बैंक अधिकारियों ने आग से हुए नुकसान का आंकलन किया। उनका कहना है कि विस्तार के जांच करने के बाद ही पता चलेगा कि कौन से महत्वपूर्ण रिकार्ड आग की भेट चढ़ गए हैं। कम्प्यूटर आदि के नुकसान के बारे में भी जानकारी जुटायी जा रही है। बैंककर्मियों का कहना है कि आग को जल्द ही काबू नहीं किया गया होता तो काफी नुकसान होता। आग किन परिस्थितियों में लगी इसकी जांच भी की जा रही है। मुख्य अग्निशमन अधिकारी अनिमेष कुमार सिंह ने बताया कि आग शार्ट सर्किट के कारण लगी है।

 

 

पहले भी लग चुकी है आग : इसके पहले भी भारतीय स्टेट बैंक के कचहरी स्थित मेन ब्रांच में आग लग चुकी है। 14 फरवरी 2016 की शाम बैंक की इमारत में भीषण आग लग गयी। पहले तल के तीन केबिन इसकी जद में आ गए थे। इनमें रखा सामान राख हो गया। बैंक में आग की जानकारी होते ही बैंक अधिकारियों में हड़कम्प मच गया। सूचना पर पहुंची फायर ब्रिगेड की चार गाडि़यों ने एक घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। दस लाख रुपये से अधिक का नुकसान हुआ था। शाम करीब साढ़े सात बजे मेन गेट के सामने मौजूद बिल्डिंग के फ‌र्स्ट फ्लोर पर स्थित सिस्टम रूम में आग लग गयी थी। धुआं देख गार्ड ने तत्काल इसकी सूचना बैंक अधिकारियों और फायर ब्रिगेड को दी। आग सिस्टम रूम में रखे ढेरों यूपीएस को चपेट में लेते हुए बगल के केबिन में रखे कबाड़ को राख करते हुए कैप सिक्योरिटी केबिन तक जा पहुंची थी।