July 11, 2020

वाराणसी में पीएम मोदी ने कहा

Spread the love

काशी में पीएम मोदी का मेशा शो बूथ कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा,- डेढ़ महीने से हिंदुस्तान के कोने कोने में जा रहा है हूं, चुनाव देश की जनता लड़ रही है और पांच साल के काम पर हम से जुड़ गई है. पूरे देश के राजनीतिक चरित्र को बदल दिया है भीड़ से पीएम मोदी- ने हर हर महादेव के नारे लगवाएं,आपके परिश्रम,पसीने की खुशबू आ रही है,इतनी गर्मी में आप मेहनत कर रहे हैं–आप सबको बहुत-बहुत बधाई,मैं भी बूथ कार्यकर्ता रहा हूं,मैं भी दीवारों पर पोस्टर लगाया हूं,मुझे भी दीवारों पर पोस्टर लगाने का सौभाग्य मिला,लोग कह रहे है फिर एक बार मोदी सरकार
मोदी ने कहा, हम किसी बड़े परिवार से नहीं हैं, जैसे कृष्णा जी के पास ग्वाले थे, रामजी के पास बानर सेना थी, वैसे आप सभी भारत मां के सिपाही हैं
, मैंने भीतर के कार्यकर्ता को कभी मरने नहीं दिया है, और इसी वजह से पीएम और सांसद की जिम्मेदारी निभा पा रहा हूं.
एक-एक वोट बहुत महत्वपूर्ण होता है भाजपा के कार्यकर्ता के नाते बनारस वालों की कठिनाई बहुत है।
क्योंकि और जगह तो सबका उम्मीदवार साथ चलकर प्रचार करता है लेकिन आप इतने काम नसीब हैं कि आपका उम्मीदवार तो पर्चा भरकर ही यहां से चला जायेगा
आप मेरी मालिक हैं मैं आपका कार्यकर्त्ता हूँ और मैं कार्यकर्त्ता के नाते अपना हिसाब दे रहा हूँ
पीएम मोदी ने कहा कि सबसे पहले आप सबको बहुत बहुत बधाई। कल जो दृश्य मैं देख रहा था । देश भर के कार्यकर्ताओं की मेहनत है कि आज कश्मीर से कन्याकुमारी तक काशी घाट से पोरबंदर तक उत्साह का माहौल है। देश में लोग खुद कह रहे हैं- फिर एक बार मोदी सरकार।
लेकिन आपका उम्मीदवार इतना भाग्यवान है कि वो कहीं भी रहे यहां का कार्यकर्ता अपने भीतर खुद को उम्मीदवार मानता है

इस चुनाव के दो पहलू हैं-
एक है काशी लोक सभा जीतना। मेरे हिसाब से ये काम कल पूरा हो गया है।
एक काम अभी बाकी है वो है पोलिंग बूथ जीतना और एक भी पोलिंग बूथ भाजपा का झंडा झुकने नहीं देना

पीएम बोले कि हमारे देश में इतने चुनाव हुए, लेकिन ये चुनाव होने के बाद पॉलिटिकल पंडितों को माथापच्ची करनी पड़ेगी। क्योंकि आजादी के बाद पहली बार लहर दिखाई दे रही है। जनता ने सरकार चुनने का मन बना लिया है। इतिहास का ये पहला मौका है कि इस तरह का चुनाव हो रहा है। जनता हमें जैसा प्यार दे रही है उसका हर पल आभार जताना होगा। कार्यकर्ता का परिश्रम और लोगों का प्रेम, ऐसा कल का अद्भुत अनुभव था। हम सब कार्यकर्ता निमित्त मात्र हैं और जनता चुनाव लड़ रही है। जनता 5 साल के अनुभव के आधार पर अनेक आशा, आकांक्षा लेकर हमसे जुड़ गई है। जनता ने पूरे देश के राजनीतिक चरित्र को बदल दिया है। सरकार बनाना जनता का काम है और सरकार चलाना हमारी जिम्मेदारी है और ये जिम्मेदारी मैंने पूरी ईमानदारी से निभाई है। आपको मैं कार्यकर्ता के तौर पर हिसाब देता हूं। कार्यकर्ता के नाते पार्टी ने 5 साल में मुझसे जितना समय मांगा, जहां मांगा मैंने एक बार भी मना नहीं किया।
इस चुनाव में हमें कुछ रिकॉर्ड भी तोड़ने हैं। मैं चाहता हूं कि लोकतंत्र जीतना चाहिए।
रिकॉर्ड ये तोड़ना है कि अब तक बनारस में, उत्तर प्रदेश में जितना पोलिंग हुआ है, उससे कहीं ज्यादा वोटिंग हो।
दुनिया को दिखा देना है कि मतदान के सारे रिकॉर्ड हम तोड़ देंगे
कल सोशल मीडिया पर लोगों ने मुझे बहुत डांटा कि रोड शो बंद कर दीजिए, अपनी सुरक्षा का ध्यान रखिए।
लेकिन मोदी का कोई ध्यान रखता है तो इस देश की करोड़ों माताएं। वे शक्ति बनकर मेरी सुरक्षाकवच बनती हैं
मेरी एक इच्छा है जो मैं गुजरात में भी पूरा नहीं कर पाया।
क्या बनारस वाले मेरी वो इच्छा पूरी कर सकते हैं क्या ?
मैं चाहता हूं कि पुरुषों की तुलना में महिलाओं का मतदान 5% ज्यादा होना चाहिए
जो पहली बार वोट करने वाले हैं उनकी लिस्ट बनाओ, भले ही वो किसी भी दल का हो। सबको बुलाओ और कम से कम एक गुड़ का टुकड़ा उसके मुंह में रखकर उसका मुंह मीठा करो
जिसको जो गाली देनी है, वो सारी मोदी के खाते में पोस्ट कर दो। मैं गंदी से गंदी चीज से भी खाद बना देता हूं और उसी से कमल खिलाता हूं-
कम से कम खर्च में हम चुनाव लड़ सकते हैं क्या, मैं तरीका बताता हूं। आपके पोलिंग बूथ पर 1000 वोट हैं, मतलब ढाई सौ परिवार हैं। एक बूथ पर 25 कार्यकर्ता हैं, एक कार्यकर्ता के जिम्मे 10 परिवार हैं। उनसे मिलिए , उनका हालचाल लीजिए-
मुझे पोलिंग बूथ जीतना है, ये चुनाव लोकतंत्र का उत्सव है। हमें किसी को पराजित करने में टाइम खराब नहीं करना है। हम दिल जीतने के लिए निकले हैं, दिल तो अपने आप जीत जाएगा-
ये प्रधानमंत्री का पद मौज-मस्ती के लिए नहीं होता है। ये पद बहन-भाई, चाचा-भतीजे के लिए नहीं होता है। इस पद पर रहकर खुद को तपाना पड़ता है। पांच साल में मैंने करके दिखाया हैं-