November 28, 2021

वाराणसी पहुंचे “बॉलीवुड अभिनेता रजा मुराद” बोले-‘पाकिस्‍तान पहले अपना घर सुधारे, फिर हमें दे नसीहत’

Spread the love

वाराणसी: एक निजी कार्यक्रम में शामिल होने वाराणसी पहुंचे बॉलीवुड अभिनेता रजा मुराद ने पाकिस्तानी पीएम को नसीहत दी है। उन्होंने पाक पीएम के भारत पर दिए गए बयान पर कहा कि पहले वो अपने घर का ला एन्ड ऑर्डर ठीक करें। पहले खुद का घर देखें फिर दूसरे के घर में झांके।वहीं नसीरुद्दीन शाह के बयान पर उन्होंने कहा कि अगर नसीर ने ऐसी कोई बात की है तो आप उनसे पूछिए की इसकी वजह क्या है। उसकी तह तक जाइये की आखरी क्यों कहा नसीर ने ऐसा।उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा बुलंदशहर में इन्स्पेक्टर की मॉब द्वारा ह्त्या के मामले को हादसा बताने पर भी रजा मुराद ने नाराज़गी व्यक्त करते हुए कहा कि इस तरह की बातों से पुलिस का मनोबल गिरेगा।अपने अज़ीज़ दोस्त की भांजी की शादी में शिरकत करने वाराणसी पहुंचे बॉलीवुड अभिनेता रज़ा मुराद ने नसीरुद्दीन शाह के बयान पर बोलते हुए कहा कि भारत जैसे प्रजातंत्र वाले देश में हर व्यक्ति को अपनी बात कहने का हक़ है। नसीरुद्दीन शाह को भी अपनी बात कहने का हक़ है और अगर उन्होंने ऐसी बात कही है कि उन्हें डर है कि कहीं उनके लड़के भी मॉब लिंचिंग का शिकार ना हो जाएं, तो ये उनसे जाकर पूछिए की उन्होंने ऐसा क्या महसूस किया जो उन्हें ऐसा बयान देना पड़ा। बात की तह तक जाइये नाकि आप बात को सिरे से ही नकार दें।रजा मुराद ने पुलिस बुलंदशहर में इसंपेक्टर की मौत को हादसा बताने को लेकर उत्तर प्रदेश सरकार को भी जमकर आड़े हाथ लिया। उन्होंने कहा कि जहां तक सवाल है गोकशी का या एक इसंपेक्टर के जान से जाने का तो जान तो गयी ही है और जान किस तरीके से गयी है, हम-आप सब जानते हैं। ऐसे में जो लोग जो ऊंची कुर्सियों पर बैठे हैं, वे बिना किसी इंक्वायरी के, बिना किसी जांच के, बिना किसी छान बीन के, बिना किसी कोर्ट के आदेश के, ये फरमा रहे हैं कि ये हादसा है। अगर आप इसे हादसा कहेंगे तो पुलिस का मनोबल कहां जाएगा। हमें, आप को या किसी को कहने का हक़ नहीं है। ये कोर्ट के लिए छोड़ दीजिए।उन्होंने राज्य सरकार को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि जिसके बच्चे अनाथ हो गये हों, जिसकी बीवी विधवा हो गयी हो, उसके मरने को आप कैसे कह सकते हैं कि ये हादसा है। हादसे में आदमी खुद को गोली तो नहीं मारेगा, जबकि रिवाल्वर भी उनसे छीन लिया गया था। उन्होंने कहा कि सरकार का काम पुलिस का मनोबल बढ़ना है ना की गिराना। ऐसे बयानों से पुलिस का मनोबल गिरेगा।वहीं पाक पीएम इमरान खान द्वारा दिये गये बयान कि अब भारत को हम सिखायेंगे कि अल्पसंख्यकों के साथ कैसा बर्ताव करना चाहिए पर बोलते हुए रजा मुराद ने कहा कि इमरान साहब पहले अपना घर देखें। एक बम ब्लास्ट में 80 से ज्यादा शिया सम्प्रदाय के लोग मार दिये जा रहे हैं। पहले वो अपने घर में लॉ एंड ऑर्डर सही करें। पहले अपना घर देखें फिर दूसरे के घर में झांके।Posted by ICN NEWS UP on December 24, 2018Reactions:Email ThisBlogThis!Share to TwitterShare to FacebookShare to PinterestLabels: City News