December 5, 2021

राजस्थान में गुर्जर प्रदर्शन कारियों ने महिलाओं के साथ की बदतमीजी

Spread the love

राज्यस्थान : सरकारी नौकरियों और शिक्षा में पांच प्रतिशत आरक्षण की मांग को लेकर राजस्थान में गुर्जर समुदाय का आंदोलन रविवार को हिंसक हो गया। धौलपुर जिले में गोलियां चलने की आवाज सुनाई दी और पुलिस वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया। साथ ही प्रदर्शनकारियों ने राज्य के कई इलाकों में सड़क और रेल यातायात ठप कर दिया। राज्य प्रशासन ने एहतियात के तौर पर गुर्जर बहुल धौलपुर और करौली जिले में धारा 144 लगा दी है। गुर्जर समुदाय शुक्रवार से आंदोलन कर रहा है।
धौलपुर के एसपी अजय सिंह ने बताया कि प्रदर्शनकारियों ने न सिर्फ रविवार को हाईवे ब्लॉक किया बल्कि फंसे हुए यात्रियों पर हमला किया और महिलाओं के साथ भी बदतमीजी की। उन्होंने कहा कि जब पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को चेतावनी दी तो प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पत्थाव शुरू कर दिया, साथ ही पुलिस की तीन गाड़ियों को आग के हवाले भी कर दिया। इस घटना के कारण हाईवे की दोनों साइड्स पर 10 किलोमीटर लंबा जाम लग गया।
गुर्जर आरक्षण संघर्ष समिति के प्रमुख किरोड़ी सिंह बैंसला ने कहा कि धौलपुर में प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने उकसाया था। बैंसला के बयान पर सहमति जताते हुए गुर्जर नेता और धौलपुर के सरपंच जोबीर पोशवाल ने कहा कि पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को खदेड़ना शुरू किया, जिसके चलते पत्थरबाजी हुई। उन्होंने प्रदर्शनकारियों द्वारा पुलिस पर फायरिंग करने के आरोप को खारिज किया है।