January 17, 2021

राघव चड्ढा समेत 9 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया,

Spread the love

बड़ी खबर: राघव चड्ढा समेत 9 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया, अमित शाह के घर प्रदर्शन के लिए जा रहे थे AAP नेता।

नई दिल्ली. दिल्ली पुलिस ने राघव चड्ढा (Raghav Chadha) समेत 9 लोगों को हिरासत (Custody) में लिया है. बताया जा रहा है कि दिल्ली सरकार में मंत्री राघव, गृह मंत्री अमित शाह (Amit Shah) और एलजी अनिल बैजल के घर पर प्रदर्शन करने की तैयारी में थे. लेकिन उससे पहले ही दिल्ली पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया. सूत्रों के मुताबिक, राघव चड्ढा के अलावा आदमी पार्टी के विधायक ऋतु राज को भी दिल्ली पुलिस ने हिरासत में लिया है. राघव चड्डा का जहां उनके घर पर से हिरासत में लिया गया है, वहीं ऋतु राज को थाने ले जाया गया है. साथ ही राघव चड्ढा के घर के बाहर पुलिस की तैनाती कर दी गई है.

इसी बीच खबर है कि आप के प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने ट्वीट कर इसके बारे में जानकारी दी है. उन्होंने आरोप लगाया है कि विधायक ऋतु राज को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. आज उन्हें एलजी साहब से मिलने जाना था. साथ ही उन्होंने कहा कि अमित शाह किसी को आवाज उठने नहीं दे रहे हैं.

डीसीपी को राघव चड्ढा ने चिट्ठी लिखी थी
जानकारी के मुताबिक, उपराज्यपाल और अमित शाह के आवास पर प्रदर्शन के लिए आम आदमी पार्टी के विधायकों ने दिल्ली पुलिस को पत्र भेजा था. आप विधायक आतिशी ने उत्तरी दिल्ली जिले के डीसीपी को पत्र लिखकर उपराज्यपाल आवास पर प्रदर्शन की अनुमति मांगी थी जबकि गृह मंत्री अमित शाह के आवास पर प्रदर्शन के लिए नई दिल्ली जिले के डीसीपी को राघव चड्ढा ने चिट्ठी लिखी थी.

पहले ही पुलिस ने नेताओं को हिरासत में ले लिया
दरअसल, बीते दिनों बीजेपी ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के बाहर दिल्ली नगर निगम के 13 हजार करोड़ रूपये के फंड को रोके जाने के विरोध में धरना प्रदर्शन किया था. बीजेपी नेताओं के साथ निगम के कर्मचारियों ने भी प्रदर्शन में हिसा लिया था. बीजेपी का कहना था कि एमसीडी (Municipal Corporation of Delhi) के 13 हजार करोड़ का बकाया अरविंद केजरीवाल सरकार नहीं दे रही है. फंड नहीं मिलने की वजह से एमसीडी के कर्मचारियों का वेतन रुका हुआ है. अब ऐसे में जानकारोंं का कहना है कि बीजेपी को जवाब देने के लिए आप ने अमित शाह के घर के बाहर विरोध करने की योजना बनाई थी, लेकिन पहले ही पुलिस ने नेताओं को हिरासत में ले लिया.