October 19, 2021

यूपी सरकार ने राजभर व अनुप्रिया की इस मांग को किया नामंजूर, बता दी यह बड़ी वजह।

Spread the love

सियासत-अपना दल एस और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के बागी होने के बाद यूपी सरकार ने भी अपने तेवर तल्ख कर लिए हैं।

अपना दल एस और सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के बागी होने के बाद यूपी सरकार ने भी अपने तेवर तल्ख कर लिए हैं। दोनों ही पार्टियों द्वारा की गई सरकारी बंगले की मांग को भाजपा सरकार ने नामंजूर कर दिया है। सरकार के सहयोगी दल सुभसपा व अपना दल (एस) ने शिवपाल यादव की ही तरह सरकारी बंगले की मांग की थी, लेकिन भाजपा सरकार ने उन दोनों की पार्टियों को मान्यता प्राप्त न होने का हवाला देते हुए बंगला देने से इंकार कर दिया।

राज्य सम्पत्ति विभाग ने दिया बयान-

राज्य सम्पत्ति विभाग के अफसर योगेश कुमार शुक्ला ने इस मामले में कहा कि सरकारी बंगला आवंटित करने के लिए नियम और कानून बने हुए हैं। भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मान्यता प्राप्त दलों को ही कार्यालय के लिए आवास दिया जा सकता है। अपना दल (एस) व सुभासपा मान्यता प्राप्त पार्टी नहीं है। अत: नियमानुसार यह दोनों दल इसके हकदार नहीं है।

शिवपाल को मिल चुका है बंगला-

प्रगतिशील समाजवादी पार्टी लोहिया के संयोजक शिवपाल सिंह यादव को यूपी सरकार ने कुछ माह पूर्व की सरकारी बंगला अलोट किया था, जहां उन्होंने अपने पार्टी का कार्यालय भी खोल रखा है। बताया जा रहा है कि इसी के बाद अपना दल (एस) व सुभासपा की ओर से सरकारी बंगले की मांग की गई थी।

बढ़ सकती है दूरी-

ओमप्रकाश राजभर व केंद्रीय स्वास्थ्य राज्य मंत्री अनुप्रिया पटेल ने भाजपा सरकार से इन दिनों वैसे ही नाराज चल रहे हैं। ऐसे में सरकार का यह कदम इन दलों में और दूरिया बढ़ा सकती है। शनिवार को वाराणसी में हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यक्रम से इन दोनों ने ही किया। हालांकि, कहा जा रहा है कि भाजपा ने अनुप्रिया पटेल व पार्टी अध्यक्ष आशीष पटेल को मनाने की प्रदेश अध्यक्ष महेंद्रनाथ पांडेय, महासचिव अनिल जैन व महासचिव भूपेंद्र यादव ने कोशिश की लेकिन कोई फायदा नहीं हुआ।

www.mvdindianews.in