May 9, 2021

यूपी में कैसे कम होगा कोरोना संक्रमण, आईआईटी कानपुर बताएगा उपाय- अजय मिश्रा

Spread the love

यूपी में कैसे कम होगा कोरोना संक्रमण? आईआईटी कानपुर बताएगा उपाय

 

कानपुर :

 

लखनऊ समेत प्रदेश के 13 जिलों में संक्रमण रोकने के उपाय आईआईटी बताएगा। यह जिम्मेदारी प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आईआईटी कानपुर के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर को सौंपी है। आईआईटी के वैज्ञानिकों ने इन 13 जिलों की कोरोना एनालिसिस रिपोर्ट तैयार कर शासन को सौंप दी है। इसके आधार पर ही सरकार को लॉकडाउन व स्वास्थ्य संबंधी योजनाएं तैयार करने में मदद मिलेगी।

 

कोरोना काल में प्रदेश सरकार तकनीकी रूप से आईआईटी की लगातार मदद ले रही है। ऑक्सीजन ऑडिट सिस्टम एप तैयार करने का जिम्मा पहले आईआईटी कानपुर को सौंपा और अब कोरोना की एनालिसिस रिपोर्ट भी उन्हीं को तैयार करनी है। मुख्यमंत्री का निर्देश मिलते ही वैज्ञानिकों ने एनालिसिस रिपोर्ट तैयार करनी शुरू कर दी। प्रदेश सरकार की ओर से आईआईटी को कोरोना रिपोर्ट उपलब्ध करा दी गई है। वैज्ञानिकों के मुताबिक जल्द से जल्द प्रदेश सरकार की ओर से दी गई जिम्मेदारी को पूरा कर दिया जाएगा। आईआईटी के निदेशक ने बताया कि संस्थान के वरिष्ठ वैज्ञानिक प्रो. मणींद्र अग्रवाल के कंप्यूटिंग मॉडल सूत्र के आधार पर ही यह एनालिसिस रिपोर्ट तैयार की जा रही है।

 

सभी 75 जिलों की तैयार होगी रिपोर्ट

 

संस्थान के निदेशक प्रो. अभय करंदीकर ने बताया कि प्रदेश के सभी 75 जिलों की कोरोना रिपोर्ट के आधार पर एक एनालिसिस रिपोर्ट तैयार करने का निर्देश मिला है। आईआईटी के वैज्ञानिकों ने पहले चरण में 13 जिलों की रिपोर्ट तैयार कर शासन को भेज दी है। जल्द बाकी जिलों की भी रिपोर्ट तैयार कर दी जाएगी।

 

आईआईटी कानपुर के निदेशक प्रोफेसर अभय करंदीकर ने बताया, कोरोना एनालिसिस रिपोर्ट से सरकार को आगे की योजना तैयार करने में मदद मिलेगी। रिपोर्ट से यह आकलन लगाया जा सकेगा कि कोरोना कब बढ़ेगा और कब इसका संक्रमण कम होगा। इस रिपोर्ट में मामूली बदलाव भी संभव है।