April 19, 2024

लखनऊ मैनपुरी बहनोंई को फंसाने के लिए बन्दी ने खुद पैर में मारी गोली

Spread the love

लखनऊ मैनपुरी बहनोंई को फंसाने के लिए बन्दी ने खुद पैर में मारी गोली : इंस्पेक्टर समेत कई को पुलिस कप्तान ने किया सस्पेंड मैनपुरी में आज सोमवार को करीब 3:30 दिन में पुलिस को सूचना मिली कि मनीष यादव नाम के एक विचाराधीन बन्दी ने तमंचे से अपने पैर में गोली मार ली है। इस सूचना पर पुलिस बल मौक़े पर पहुँचा तथा घायल बंदी को उपचार हेतु ज़िला अस्पताल ले गया। वहाँ पर प्राथमिक उपचार के बाद उसे सैफई रिफर कर दिया गया। जहाँ वह ख़तरे से बाहर है। पहले उसने पूछताछ में पुलिस को बताया कि उसे उसके बहनोई प्रिंस ने गोली मारी है, परंतु जब उसके हाथ को सूँघा गया तो ताज़े बारूद की महक आ रही थी, जिस पर उससे हिकमत अमली से पूछताछ हुई तो उसने बताया कि उसने यह पूरा प्लान अपने बहनोई प्रिंस को फँसाने के लिए बनाया था। इस प्लान का कारण पूछने पर ज़मीन और 2 लाख रूपयों के लेन देन की बात बताई। इस पूरे प्रकरण में कोर्ट मुहर्र्रिर देवेन्द्र गौड़ की तरफ़ से विस्तृत तहरीर लेकर सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज किया जा रहा है, जिसकी गहराई से विवेचना की जाएगी। इसके अतिरिक्त, जाँच पड़ताल में प्रथम दृष्ट्या यह बात सामने आई है कि पुलिस की तरफ़ से लापरवाही हुई है जिसके कारण ही तमंचा कोर्ट में पहुँचा है। इसमें प्रथम दृष्ट्या इंस्पेक्टर विजय कुमार गौतम, आरक्षी प्रदीप राजा, आरक्षी सत्यवीर सिंह, आरक्षी एलआईयू दिलीप कुमार की लापरवाही परिलक्षित होने पर उन्हें तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है तथा शेष अन्य पुलिस कर्मियों की लापरवाही विषयक जाँच जारी है। शीघ्र ही और भी दण्डात्मक कार्यवाहियाँ अमल में लाई जाएँगी।

मैनपुरी जिले के सदर हवालात में बंदी मनीष खुद को मारी गोली का मामला आईजी एलओ प्रवीण कुमार का बयान एक इस्पेक्टर लोग 2 सिपाही एक एलआईयू पुलिस कर्मी सस्पेंड बंदी मनीष पैर मैं छुपा कर लाया लाया था असलहा चार पुलिसकर्मियों को किया गया सस्पेंड मां बाप और भाई की हत्या के आरोप में बंद था मनीष |