January 18, 2021

मुख्य सचिव की अध्यक्षता में प्रोजेक्ट माॅनिटरिंग ग्रुप की बैठक आयोजित- अजय मिश्रा

Spread the love

*मुख्य सचिव की अध्यक्षता में प्रोजेक्ट माॅनिटरिंग ग्रुप की बैठक आयोजित*

 

*पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का मुख्य कैरिज वे 31 मार्च, 2021 तथा सम्पूर्ण प्रोजेक्ट 31 अक्टूबर, 2021 तक पूरा हो जायेगा*

 

*बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे की एक साइड 28 फरवरी, 2022 तक दोनों साइड 30 अप्रैल, 2022 तक आवागमन हेतु चालू हो जायेगा*

 

*बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे प्रोजेक्ट का सम्पूर्ण कार्य 30 दिसम्बर, 2022 तक पूरा हो जायेगा*

 

*गोरखपुर-आजमगढ़़ लिंक एस्सप्रेस-वे का मेन कैरिज वे माह अप्रैल, 2022 तक तथा सम्पूर्ण प्रोजेक्ट माह दिसम्बर, 2022 तक पूरा हो जायेगा*

 

*गंगा एक्सप्रेस-वे निर्माण के लिए भूमि क्रय करने की कार्यवाही प्रारंभ, माह जून, 2021 तक जरूरी भूमि की व्यवस्था कर ली जायेगी*

 

*एक्सप्रेस-वे को आवागमन हेतु चालू करने के साथ ही पब्लिक यूटिलिटी, पेट्रोल पम्प, रेस्टोरेन्ट आदि की भी समुचित व्यवस्थाएं सुनिश्चित की जायें*

 

*राजेन्द्र कुमार तिवारी*

*मुख्य सचिव*

 

दिनांक: 05 जनवरी, 2021

 

लखनऊ: मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में आयोजित प्रोजेक्ट माॅनिटरिंग ग्रुप की बैठक में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे, बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे, गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे, गंगा एक्सप्रेस-वे के निर्माण एवं डिफेन्स काॅरीडोर की प्रगति की समीक्षा की गयी।

अपने सम्बोधन में मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी ने कहा कि पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे का मेन कैरिज वे 31 मार्च, 2021 तक चालू हो जायेगा तथा हल्के वाहनों का आवागमन प्रारंभ हो जायेगा, जिसके दृष्टिगत पब्लिक यूटिलिटी एवं पेट्रोल पम्प आदि की जरूरी व्यवस्थाएं समय से सुनिश्चित की जाये। उन्होंने कहा कि सड़क निर्माण के साथ-साथ अन्य जरूरी व्यवस्थाएं भी समयबद्ध रूप से की जानी चाहिए ताकि एक्सपे्रस-वे पर यात्रा करने वालों को कोई असुविधा न हो। उन्होंने आवागमन चालू करने के साथ ही एक्सप्रेस-वे पर टाॅयलेट्स, फ्यूल पम्प्स, समुचित खान-पान आदि की भी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराने को कहा। उन्होंने पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे को गूगल मैप से जोड़़ने हेतु भी अग्रेत्तर कार्यवाही करने के निर्देश दिये। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे के सम्बन्ध में बताया गया कि मेन कैरिज वे 31 मार्च, 2021 तक पूरा हो जायेगा। सर्विस रोड 31 जुलाई, 2021 तक तथा सम्पूर्ण कार्य माह अक्टूबर, 2021 तक पूरा हो जायेगा। हल्की गाड़ियों का आवागमन माह मार्च, 2021 के पश्चात् चालू हो जायेगा। पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे में 07 दीर्घपुल बनाये जा रहे हैं तथा कार्य की भौतिक प्रगति 90.32 प्रतिशत है। 22 फ्लाईओवर बनाये जा रहे हैं तथा भौतिक प्रगति करीब 75 प्रतिशत है।

बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे निर्माण की समीक्षा में बताया गया कि 28 फरवरी, 2022 तक सड़क की एक साइड आवागमन हेतु खोल दी जायेगी तथा दोनों साइड 30 अप्रैल, 2022 तक आवागमन हेतु खोल दी जायेगी। बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे का सम्पूर्ण कार्य 30 दिसम्बर, 2022 तक पूरा कर लिया जायेगा। बुन्देलखण्ड एक्सप्रेस-वे के निर्माण की अद्यतन भौतिक प्रगति 32.31 प्रतिशत है।

गोरखपुर-आजमगढ़ लिंक एक्सप्रेस-वे के निर्माण की प्रगति समीक्षा में बताया गया कि माह अप्रैल, 2022 तक मेन कैरिज वे चालू हो जायेगा तथा माह दिसम्बर, 2022 तक प्रोजेक्ट का सम्पूर्ण कार्य पूरा हो जायेगा।

गंगा एक्सप्रेस-वे निर्माण की प्रगति समीक्षा में बताया गया कि भूमि क्रय करने की कार्यवाही प्रारंभ कर दी गयी है तथा माह जून, 2021 तक यह कार्य पूरा कर लिया जायेगा। उन्होंने जिलावार व माहवार भूमि क्रय करने का लक्ष्य निर्धारित कर सम्बन्धित जिलों के जिलाधिकारियों को भी अवगत कराने को कहा।

डिफेन्स इण्डस्ट्रियल काॅरीडोर प्रोजेक्ट की समीक्षा में बताया गया कि अलीगढ़ में 60.7400 हेक्टेयर भूमि की उपलब्धता के सापेक्ष 100 प्रतिशत भूमि आवंटित की जा चुकी है।

बैठक में अपर मुख्य सचिव गृह एवं यूपीडा के मुख्य कार्यपालक अधिकारी अवनीश कुमार अवस्थी, अपर मुख्य सचिव कार्यक्रम क्रियान्वयन, कुमार कमलेश, अपर मुख्य सचिव औद्योगिक विकास आलोक कुमार सहित सम्बन्धित विभागों के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारीगण आदि उपस्थित थे।

——–