November 28, 2020

मुख्यमंत्री ने आगामी त्योहारों एवं पर्वाें को देखते हुए कोविड-19 के प्रति विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिये- अजय मिश्रा

Spread the love

मुख्यमंत्री ने आगामी त्योहारों एवं पर्वाें को देखते हुए कोविड-19

के प्रति विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिये

 

बाजारों सहित सभी सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग पर विशेष ध्यान दिया जाए: मुख्यमंत्री

 

कोविड-19 के प्रोटोकाॅल का पूर्ण पालन सुनिश्चित कराया जाए

 

कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किये जाने के निर्देश

 

सभी जनपदों में इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेण्टर पूरी सक्रियता से संचालित किये जाएं

 

प्रदेश के सीमावर्ती राज्यों से आने वाले लोगों की काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग ज्यादा से ज्यादा की जाए

 

‘ई-संजीवनी’ एप का व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए इसके

माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को आॅनलाइन ओ0पी0डी0 सेवा का लाभ दिलाया जाए

 

दीपावली के बाद मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का आयोजन करने के सम्बन्ध में सभी तैयारियां कर ली जाएं

 

धान खरीद में किसानों को एम0एस0पी0 का पूरा लाभ सुनिश्चित कराने के निर्देश

 

गो-आश्रय स्थलों में गोवंश को ठण्ड से बचाने के लिए सभी प्रबन्ध किये जाएं

 

लखनऊ: 11 नवम्बर, 2020

 

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने आगामी त्योहारों एवं पर्वाें को देखते हुए कोविड-19 के प्रति विशेष सतर्कता बरतने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि बाजारों सहित सभी सार्वजनिक स्थानों पर सोशल डिस्टेंसिंग पर विशेष ध्यान दिया जाए। कोविड-19 के प्रोटोकाॅल का पूर्ण पालन सुनिश्चित कराया जाए।

मुख्यमंत्री जी आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में अनलाॅक व्यवस्था की समीक्षा कर रहे थे। उन्होंने कोविड-19 से बचाव के सम्बन्ध में लोगों को निरन्तर जागरूक किये जाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि इसके लिए विभिन्न प्रचार माध्यम के साथ-साथ पब्लिक एड्रेस सिस्टम का उपयोग किया जाए। पब्लिक एड्रेस सिस्टम को बाजारों सहित विभिन्न प्रमुख स्थानों पर स्थापित करते हुए इनके माध्यम से लोगों को कोरोना से बचाव व सोशल डिस्टेंसिंग का पूर्ण पालन करने के सम्बन्ध में जागरूक किया जाए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि सभी जनपदों में इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कंट्रोल सेण्टर पूरी सक्रियता से संचालित किये जाएं। प्रदेश के सीमावर्ती राज्यों से आने वाले लोगों की काॅन्टैक्ट ट्रेसिंग ज्यादा से ज्यादा की जाए। उन्होंने ‘ई-संजीवनी’ एप का व्यापक प्रचार-प्रसार किये जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इसके माध्यम से अधिक से अधिक लोगों को आॅनलाइन ओ0पी0डी0 सेवा का लाभ दिलाया जाए। ज्ञातव्य है कि प्रदेश में 02 लाख लोगों द्वारा अब तक ‘ई-संजीवनी’ एप के माध्यम से आॅनलाइन चिकित्सीय परामर्श प्राप्त किया गया। इस एप का उपयोग करने वाले राज्यों में उत्तर प्रदेश का द्वितीय स्थान है।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि दीपावली के बाद मुख्यमंत्री आरोग्य मेले का आयोजन करने के सम्बन्ध में सभी तैयारियां कर ली जाएं। मुख्यमंत्री आरोग्य मेले में कोविड-19 के सम्बन्ध में रैपिड एण्टीजन टेस्ट की सुविधा भी प्रदान की जाए।

मुख्यमंत्री जी ने धान खरीद में किसानों को एम0एस0पी0 का पूरा लाभ सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि धान खरीद केन्द्रों पर पूरी पारदर्शिता के साथ किसानों से धान क्रय किया जाए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि गो-आश्रय स्थल के संरक्षित गोवंश के लिए चारे की पर्याप्त व्यवस्था सुनिश्चित की जाए। यह भी सुनिश्चित किया जाए कि गो-आश्रय स्थल पर रात्रि में केयर टेकर अवश्य रहे। उन्होंने गो-आश्रय स्थलों में गोवंश को ठण्ड से बचाने के लिए सभी प्रबन्ध करने के निर्देश दिये।

इस अवसर पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री श्री सुरेश खन्ना, स्वास्थ्य मंत्री श्री जय प्रताप सिंह, मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास आयुक्त श्री आलोक टण्डन, पुलिस महानिदेशक श्री हितेश सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव राजस्व श्रीमती रेणुका कुमार, अपर मुख्य सचिव एम0एस0एम0ई0 एवं सूचना श्री नवनीत सहगल, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा शिक्षा डाॅ0 रजनीश दुबे, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव कृषि श्री देवेश चतुर्वेदी, प्रमुख सचिव पशुपालन श्री भुवनेश कुमार, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री आलोक कुमार, सचिव मुख्यमंत्री श्री आलोक कुमार, सूचना निदेशक श्री शिशिर सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

——–