October 26, 2020

‘मिशन शक्ति’ अभियान के तहत जनपद स्तर  पर प्रतिदिन समीक्षा किए जाने के निर्देश- अजय मिश्रा

Spread the love

मुख्यमंत्री ने महिलाओं तथा बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान

के दृष्टिगत शारदीय नवरात्र से बासंतिक नवरात्र तक चलाए

जाने वाले ‘मिशन शक्ति’ अभियान के सम्बन्ध में समीक्षा की

 

‘मिशन शक्ति’ अभियान के तहत जनपद स्तर

पर प्रतिदिन समीक्षा किए जाने के निर्देश

 

मुख्य सचिव व पुलिस महानिदेशक स्तर पर मासिक समीक्षा की जाए

 

सभी सम्बन्धित विभाग सुदृढ़ कार्य योजना के तहत

‘मिशन शक्ति’ सम्बन्धी कार्यक्रमों का संचालन सफलतापूर्वक करें

 

महिला एवं बाल अपराध की माॅनीटरिंग हेतु जनपद स्तर पर

माॅनीटरिंग कमेटी की नियमित बैठकें आयोजित की जाएं

 

पाॅक्सो व महिला अपराध सम्बन्धी वादों के निस्तारण के लिए तेजी से कार्यवाही हो

 

फाॅरेंसिक लैब से सम्बन्धित कार्यवाही में शीघ्रता लाए जाने के निर्देश

 

‘मिशन शक्ति’ अभियान के तहत महिला सुरक्षा व सम्मान के सम्बन्ध में सोशल मीडिया व विभिन्न संचार माध्यमों द्वारा व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए

 

सभी थानों में महिला हेल्प डेस्क स्थापित की जाए,

एण्टी रोमियो स्क्वाॅड द्वारा निरन्तर अभियान चलाया जाए

 

छात्र-छात्राओं को महिला सुरक्षा व सम्मान के

दृष्टिगत सेंसिटाइज व जागरूक किया जाए

 

‘मिशन शक्ति’ का संचालन प्रदेश के 75 जनपदों में

प्रत्येक वाॅर्ड व प्रत्येक ग्राम पंचायत में किया जाए

 

मुख्यमंत्री के समक्ष ‘मिशन शक्ति’ तथा ‘आॅपरेशन शक्ति’ का प्रस्तुतीकरण

लखनऊ: 12 अक्टूबर, 2020

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने महिलाओं व बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान के दृष्टिगत शारदीय नवरात्र से बासंतिक नवरात्र तक चलाए जाने वाले ‘मिशन शक्ति’ अभियान के तहत जनपद स्तर पर प्रतिदिन समीक्षा किए जाने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि यह समीक्षा बैठकंे अन्य स्तरों पर साप्ताहिक, पाक्षिक व मासिक आधार पर की जाएं। उन्होंने मुख्य सचिव व पुलिस महानिदेशक स्तर पर मासिक समीक्षा किए जाने के निर्देश दिए। उन्हांेंने कहा कि सभी सम्बन्धित विभाग सुदृढ़ कार्य योजना के तहत ‘मिशन शक्ति’ सम्बन्धी कार्यक्रमों का संचालन सफलतापूर्वक करें। यह विभाग ‘कन्वर्जेन्स माॅडल’ के माध्यम से अभियान में सहयोग प्रदान करेंगे। उन्होंने ‘मिशन शक्ति’ अभियान को शारदीय नवरात्र से बासंतिक नवरात्र तक निरन्तर चलाए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि इस दौरान प्रत्येक माह कार्यक्रम आयोजित किए जाएं, जिससे जनमानस जागरूक हो सके।

मुख्यमंत्री जी आज यहां लोक भवन में महिलाओं तथा बालिकाओं की सुरक्षा व सम्मान के तहत चलाए जाने वाले ‘मिशन शक्ति’ अभियान के सम्बन्ध में समीक्षा कर रहे थे। सम्पूर्ण अभियान ‘मिशन शक्ति’ के रूप में संचालित किया जाएगा तथा अभियान के दौरान पुलिस विभाग द्वारा ‘आॅपरेशन शक्ति’ के अन्तर्गत प्रवर्तन कार्यवाही की जाएगी।

इस अवसर पर अपर पुलिस महानिदेशक, महिला व बाल सुरक्षा संगठन सुश्री नीरा रावत द्वारा ‘मिशन शक्ति’ तथा पुलिस महानिरीक्षक, लखनऊ रेंज सुश्री लक्ष्मी सिंह द्वारा ‘आॅपरेशन शक्ति’ के सम्बन्ध में प्रस्तुतीकरण किया गया। साथ ही, बेसिक शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, उच्च शिक्षा, प्राविधिक शिक्षा, औद्योगिक विकास, कृषि एवं कृषि शिक्षा, ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज, नगर विकास, परिवहन विभाग, अभियोजन, पुलिस आदि विभागों द्वारा ‘मिशन शक्ति’ की कार्य योजना के सम्बन्ध में मुख्यमंत्री जी को जानकारी दी गई। मुख्यमंत्री जी ने अधिकारियों को प्रस्तुतीकरण के उपरान्त आवश्यक सुझाव व दिशा-निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि महिला एवं बाल अपराध की माॅनीटरिंग हेतु जनपद स्तर पर माॅनीटरिंग कमेटी की नियमित बैठकें आयोजित की जाएं। पाॅक्सो व महिला अपराध सम्बन्धी वादों के निस्तारण के लिए तेजी से कार्यवाही हो। शिथिलता, विलम्ब या लापरवाही की स्थिति में अभियोजन अधिकारी की जवाबदेही तय की जाए। उन्होंने पाक्सो व महिलाओं सम्बन्धी वादों के सम्बन्ध में सशक्त पैरवी किए जाने की बात कही। उन्होंने फाॅरेंसिक लैब से सम्बन्धित कार्यवाही में भी शीघ्रता लाए जाने के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि ‘मिशन शक्ति’ अभियान के तहत महिला सुरक्षा व सम्मान के सम्बन्ध में सोशल मीडिया व विभिन्न संचार माध्यमों द्वारा व्यापक प्रचार-प्रसार किया जाए। अच्छे कार्यों की सक्सेज स्टोरी को प्रमुखता से जनता के सामने मीडिया के माध्यम से प्रस्तुत किया जाए, जिससे लोगों में प्रेरणा पैदा हो। अलग-अलग विभागों से सम्बन्धित अच्छे कार्यों और सक्सेज स्टोरीज का प्रचार-प्रसार योजनाबद्ध ढंग से किया जाए। सभी थानों में महिला हेल्प डेस्क स्थापित की जाए तथा एण्टी रोमियो स्क्वाॅड द्वारा निरन्तर अभियान चलाया जाए। सभी उपलब्ध हेल्प लाइनों जैसे-विमेन पावर लाइन ‘1090’, ‘181’, ‘102’, ‘112’ आदि का भी व्यापक प्रचार किया जाए।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि प्रदेश के प्राथमिक, माध्यमिक, उच्च तथा प्राविधिक शिक्षा सहित सभी शिक्षण संस्थानों में भी व्यापक स्तर पर छात्र-छात्राओं को महिला सुरक्षा व सम्मान के दृष्टिगत सेंसिटाइज व जागरूक किया जाए। ‘मिशन शक्ति’ के सम्बन्ध में आॅनलाइन कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएं। शिक्षकों को भी इनके सम्बन्ध में प्रशिक्षण दिलाया जाए। ‘मिशन शक्ति’ अभियान के दौरान लैंगिक आधारित संवेदीकरण, प्रशिक्षण, काॅरपोरेट एक्टिविटी, ध्वनि सन्देश, साक्षात्कार, दुर्गा पूजा व अन्य सांस्कृतिक पण्डालों में कार्यक्रम सहित जागरूकता उत्पन्न किए जाने सम्बन्धी आयोजन किए जाएं।

मुख्यमंत्री जी ने कहा कि महिला सुरक्षा से सम्बन्धित समस्त विभागों द्वारा यह सुनिश्चित किया जाए कि प्राप्त शिकायतों में पीड़िता/शिकायतकर्ता की पूर्ण संतुष्टि के स्तर तक कार्यवाही गतिमान रहे। महिलाओं व बालिकाओं से सम्बन्धित शिकायतों में यह भी सुनिश्चित किया जाए कि यह शिकायतें फर्जी न हों। उन्होंने कहा कि ‘मिशन शक्ति’ का संचालन प्रदेश के 75 जनपदों में प्रत्येक वाॅर्ड व प्रत्येक ग्राम पंचायत में किया जाए। यह अभियान कार्यालयों, संस्थानों, औद्योगिक प्रतिष्ठानों आदि में भी चलाया जाए। इस विशेष अभियान के तहत सम्मिलित विभागों के मध्य अन्तर्विभागीय समन्वय द्वारा अभियान का सफल संचालन सुनिश्चित किया जाए।

इस अवसर पर मुख्य सचिव श्री आर0के0 तिवारी, अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश कुमार अवस्थी, पुलिस महानिदेशक श्री एच0सी0 अवस्थी, अपर मुख्य सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास श्री आलोक कुमार, अपर मुख्य सचिव कृषि श्री देवेश चतुर्वेदी, अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायतीराज श्री मनोज कुमार सिंह, अपर मुख्य सचिव व्यावसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास श्रीमती एस0 राधा चैहान, अपर मुख्य सचिव उच्च शिक्षा श्रीमती मोनिका गर्ग, अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा श्रीमती आराधना शुक्ला, प्रमुख सचिव मुख्यमंत्री एवं सूचना श्री संजय प्रसाद सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

——-