मायावती के करीबी बाहुबली पूर्व ब्लाक प्रमुख पर एडीजे की हत्या की साजिश का आरोप

Spread the love

वाराणसी/आजमगढ़: बसपा सुप्रीमो मायावती के करीबी बताये जाने वाले बाहुबली बसपा नेता पूर्व ब्लाक प्रमुख अखंड प्रताप सिंह नहीं मुश्किलों में फंसते नजर अ रहे हैं। अखंड पर एडीजे (प्रथम) लालता प्रसाद की हत्या की सजिश रचने के प्रयास का आरोप लगा है। आरोप है कि अखंड का गुर्गा दही बेचने के बहाने शुक्रवार को एडीजे के सरकारी आवास में घूस गया था लेकिन उस समय एडीजे बाथरूम में थे। इसके पहले ही एडीजे को एक पत्र मिला था जिसपर किसी का नाम तो नहीं था लेकिन बाहुबली के मुकदमें को शिथिल करने की धमकी दी गयी थी। समूचे घटनाक्रम से पुलिस महकमे हड़कंप मचा है। शहर कोतवाली पुलिस अब अखंड व एक अज्ञात गुर्गे के खिलाफ एफआईआर दर्ज

दो लाख का इनाम होने पर किया था समर्पण

गौरतलब है कि बसपा नेता बाहुबली अखंड प्रताप सिंह पर चर्चित ट्रांसपोर्ट कारोबारी धनराज यादव की हत्या सहित तीन दर्जन से अधिक आपराधिक मामले पुलिस रिकार्ड में दर्ज है। पिछले दिनों पुलिस ने अखंड पर दो लाख का ईनाम घोषित करते हुए चल-अचल सम्पति कुर्क करायी थी। दिसंबर में अखंड ने न्यायालय के सामने समर्पर्ण कर दिया था लेकिन इससे पहले ही एडीजे के आवास पर एक पत्र फेंका गया था जिसमें उन्हें अखंड प्रताप के मुकदमें में शिथिलता बरतने की हिदायत दी गयी थी। इस पत्र पर किसी का नाम नहीं था लेकिन मामले की जांच पुलिस को सौंपी गयी थी। अखंड जेल चला गया तो पुलिस भी निश्चिंत हो गयी थी। इसी बीच शुक्रवार दिन में एडीजे आवास पर बाथरूम में थे उसी दौरान सुरक्षा को धता बताते हुए एक युवक दही बेचने के बहाने उनके आवास में घुस गया। उसने आवाज भी लगाया लेकिन एडीजे बाथरूम में होने के कारण देर से बाहर निकले।

सुरक्षा इंतजाम की खुली पोल

एडीजी को घर में न पाकर सदिग्ध युवक लौट गया लेकिन जब वह खुद बाहर निकले तो आवास पर मौजूद कर्मचारियों ने बताया की वह दही बेचने वाला है। एडीजे को आशंका हुई कि इतनी सुरक्षा के बाद भी संदिग्ध युवक कैसे भीतर घुस गया। इस संबंध में उन्होंने एसपी प्रो. त्रिवेणी सिंह से बात की। एसपी ने मामले को गभीरता से लेते हुए शहर कोतवाल अनिल सिंह से बाहुबली अखंड प्रताप सिंह को नामजद और एक अज्ञात के विरुद्ध रिपोर्ट दर्ज करायी है। इस मामले की गहनता से जांच पड़ताल की जा रही। खास यह भी कि सरकार के आदेश पर पुलिस जहां सुरक्षा के तमाम तरह के इंतजामात किए है वहीं इसको धता बताकर युवक के एडीजे के आवास में घूसने से सुरक्षा व्यवस्था की भी पोल खुल गयी। पुलिस आरोपी की पहचान के लिए सीसीटीवी फुटेज आदि खंगाल रही है।

Leave a Reply