November 25, 2020

महात्मा गांधी नरेगा के अन्तर्गत गरीब कल्याण रोजगार अभियान प्रकोष्ठ का उद्घाटन- अजय मिश्रा

Spread the love

महात्मा गांधी नरेगा के अन्तर्गत गरीब कल्याण रोजगार अभियान

प्रकोष्ठ का उद्घाटन

 

स्वतंत्र वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग कक्ष की स्थापना एवं काॅल सेंटर के आधुनिकीकरण से जनपदों से बेहतर समन्वय स्थापित करने व योजनाओं के

अनुश्रवण में तेजी आयेगी

– श्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘मोती सिंह’

 

लखनऊ: 19 अक्टूबर, 2020

उत्तर प्रदेश के ग्राम्य विकास एवं समग्र विकास मंत्री श्री राजेन्द्र प्रताप सिंह ‘मोती सिंह’ द्वारा आज यहां विधान सभा मार्ग स्थित राज्य मनरेगा कार्यालय में महात्मा गांधी नरेगा के अन्तर्गत गरीब कल्याण रोजगार अभियान प्रकोष्ठ का उद्घाटन किया गया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मनरेगा राज्य स्तरीय प्रकोष्ठ के आधुनिकीकरण व स्वतंत्र वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग की सुविधाओं के विकसित होने से प्रदेश के सभी 827 विकास खण्डों से सीधा संवाद स्थापित हो सकेगा। इसके माध्यम से जनपदों के साथ विभिन्न बिन्दुओं की समीक्षा व अनुश्रवण के कार्य और मनरेगा श्रमिकों की समस्याओं के त्वरित निस्तारण तथा जनपदों से बेहतर समन्वय स्थापित करने में सहायता मिलेगी।

ग्राम्य विकास मंत्री ने कहा कि आधुनिक सुविधाओं से युक्त एक स्वतंत्र वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग कक्ष की स्थापना एवं काॅल सेंटर के आधुनिकीकरण किये जाने से ग्रामीण विकास मंत्रालय भारत सरकार द्वारा महात्मा गांधी नरेगा एवं श्यामा प्रसाद मुखर्जी रूर्बन मिशन के अन्तर्गत मानकों पर किये जाने वाले कार्यों की समीक्षा भी नियमित रूप से वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से की जा सकेगी। प्रकोष्ठ के आधुनिकीकरण एवं सुदृढ़ीकरण हेतु 306.16 लाख रूपए की स्वीकृति प्रदान की गयी है। ग्राम्य विकास मंत्री ने काॅल सेंटर के आधुनिकीकरण के शेष कार्यों को अगले 1 माह में पूर्ण करने के निर्देश भी दिये।

ग्राम्य विकास मंत्री ने कहा कि ग्राम्य विकास विभाग ने कोरोना काल में अत्यन्त सराहनीय कार्य किया है और यह ऐसा विभाग है जो गरीबों के सर्वांगीण विकास के लिए हर दिशा में कार्य कर सकता है। उन्होंने विभागीय अधिकारियों से विभाग की विभिन्न लाभकारी योजनाओं के माध्यम से लोगों को अधिक से अधिक लाभान्वित किये जाने की अपेक्षा की।

श्री सिंह ने बताया कि प्रदेश में महात्मा गांधी नरेगा योजनान्तर्गत वृहद स्तर पर प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराया जा रहा है और कोविड-19 महामारी में मनरेगा योजना ग्रामीण अर्थव्यवस्था एवं रोजगार सृजन के लिए संजीवनी साबित हुई है। 21 अप्रैल, 2020 को केन्द्र सरकार ने ग्रामीण क्षेत्रों के नो कन्टेनमेंट जोन में मनरेगा योजना के कार्यों की शुरूआत के निर्देश निर्गत किये थे। प्रदेश सरकार द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में मनरेगा के कार्य द्वारा स्थानीय लोगों को रोजगार मिला है।

कार्यक्रम में प्रदेश के ग्राम्य विकास एवं समग्र विकास राज्यमंत्री श्री आनंद स्वरूप शुक्ला की गरिमामयी उपस्थिति भी रही। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि मनरेगा राज्य स्तरीय प्रकोष्ठ के आधुनिकीकरण एवं वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग की सुविधा उपलब्ध होने से प्रदेश के सभी जनपदों से अनुश्रवण कार्य तेजी से हो सकेगा।

उद्घाटन कार्यक्रम में अपर मुख्य सचिव ग्राम्य विकास एवं पंचायती राज विभाग श्री मनोज कुमार सिंह, आयुक्त ग्राम्य विकास श्री के0 रविन्द्र नायक, मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री सुजीत कुमार एवं विभाग के अन्य वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित रहे।

सम्पर्क सूत्र: निधि वर्मा