October 20, 2021

ममता की मोदी विरोधी रैली में बरसे नेता

Spread the love

कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की ‘मोदी विरोधी’ महारैली हो रही है।इस मेगा रैली के लिए पूरे पश्चिम बंगाल से तृणमूल कांग्रेस के लाखों कार्यकर्ता व समर्थक कोलकाता पहुंचे हुए हैं। इस रैली के जरिए बनर्जी लोकसभा चुनाव से पहले विपक्ष की ताकत प्रदर्शित करना चाहती हैं। इस रैली में शामिल होने के लिए 23 से अधिक पार्टियों के नेता पहुंचे हैं। तमाम नेताओं ने अपनी स्पीच में मोदी सरकार पर बरसे किसी वक्ता ने कहा कि ‘हम चोरों के खिलाफ लड़ रहे हैं’ तो किसी ने कहा ‘देश में बदले की राजनीति हो रही’ तो कोई राफेल पर बरसा।

इस मौके पर सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा केंद्र की मोदी सरकार हर मोर्चे पर विफल साबित हुई है। किसान, गरीब, मजदूरों और दलितों को परेशान किया है, करोड़ों लोगों को इनके कामों की वजह से बेरोजगार होना पड़ा है। इसलिए ऐसी सरकार को उखाड़ फेंकना जरूरी है, इसके लिए विपक्ष को एक होना है और सपा-बसपा ने गठबंधन कर इसकी शुरुआत कर दी है।

अजित सिंह चौधरी के बेटे जयंत चौधरी ने कहा कि यह रैली नहीं रैला है, निजी कंपनियों को फायदा पहुंचाने के लिए जनता के पैसों को लूटा जा रहा है। नेता जिद्दी भी होता है,चौधरी चरण सिंह किसानों के लिए जिद्दी थे, ममता कोलकाता के लिए जिद्दी हैं,लेकिन प्रधानमंत्री मोदी जिद्दी हैं, उन्हें अपने लोगों को ठेका देने की जिद्द है और यह जिद्दी देश को पसंद नहीं है।

अभिषेक मनु सिंघवी बोले- आज देश में बदले की राजनीति हो रही है। आज 22 पार्टियों का इंद्रधनुष मंच बना है। इस मंच का उद्देश्य वोट विभाजन को रोकना है। सवाल एक व्यक्ति का नहीं बल्कि एक सोच का है।

बीजेपी के बागी नेता यशवंत सिन्हा ने कहा कि मोदी सरकार ने हर लोकतांत्रिक व्यवस्था को खत्म बर्बाद करने में लगी है।उन्होंने कहा कि यह लड़ाई लोकतंत्र बचाने की है। कश्मीर की समस्या का समाधान गोली से नहीं बोली से होगा। मुझे पाकिस्तान का एजेंट भी कहा गया। लेकिन क्या प्यार की बात करना देशद्रोह है. मेरा एक उद्देश्य है, एक लड़ाई बाकी है वो है इस सरकार को सत्ता से बाहर करना।

फारुक अब्दुल्ला ने कहा कि देश में लोगों को बांटने का काम हो रहा है, हिन्दू-मुसलमानों को बांटने का काम किया जा रहा है। पूरे देश में आग लगी हुई है, इसे रोकने के लिए हमें कुर्बानी देनी होगी, इस कुर्बानी के लिए लोगों से पहले नेताओं को आगे आना होगा। आज जम्मू कश्मीर जिस हालत में है उसकी जिम्मेदार भी बीजेपी है, मैं मुसलमान जरूर हूं लेकिन पहले भारतीय हूं। जिसे आप ईवीएम कहते हैं वो चोर मशीन है, इसे खत्म करना चाहिए. इससे चुनाव में चोरी की जाती है।

गुजरात में पाटिदार आंदोलन के नेता हार्दिक पटेल ने कोलकाता में विपक्ष की रैली के दौरान कहा कि नेताजी सुभाष चन्द्र बोस ने ‘गोरों’ के खिलाफ लड़ने की अपील की थी और हम ‘चोरों’ के खिलाफ लड़ रहे हैं।युवा गुजराती नेता ने सभी विपक्षी दलों को एक साथ एक मंच पर लाने के लिए पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को धन्यवाद दिया।

दलित नेता जिगनेश मेवानी ने कहा कि तृणमूल कांग्रेस की विपक्षी रैली में कई विपक्षी दलों का एकसाथ आना आगामी लोकसभा चुनाव में बदलाव का संदेश देता है। मेवानी ने कहा कि ‘महागठबंधन’ आरएसएस और भाजपा की हार सुनिश्चित करेगा।