मध्य प्रदेश में 4 दिन पहले बसपा छोड़ कांग्रेस में आए वरिष्ठ नेता की हत्या

Spread the love

गत 12 मार्च को ही दमोह में मुख्यमंत्री कमलनाथ की मौजूदगी में बसपा छोड़कर कांग्रेस में शामिल हुए 54 वर्षीय देवेन्द्र चौरसिया की शुक्रवार को कथित रूप से हत्या कर दी गई। इस मामले में पुलिस ने दमोह की पथरिया विधानसभा सीट से बसपा विधायक रामबाई के पति और तीन परिजन सहित सात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया है।

जिला पुलिस अधीक्षक राघवेंद्र सिंह बेलबंसी ने बताया कि शुक्रवार सुबह को हटा में अपने प्लांट पर मौजूद देवेन्द्र चौरसिया और उनके पुत्र सोमेश चौरसिया पर कुछ लोगों ने जानलेवा हमला किया था। इस हमले में गंभीर रुप से घायल देवेन्द्र की जबलपुर ले जाते समय मौत हो गई।

पुलिस ने इस मामले में गोविंद सिंह (विधायक रामबाई के पति), चंदू सिंह, गोलू सिंह, लोकेश, श्रीराम शर्मा, अमजद खान और इंद्रजीत पटेल के खिलाफ धारा 302 (हत्या) और भादवि की अन्य सम्बद्ध धाराओं में मामला दर्ज किया है। घटना के बाद हटा कस्बे का बाचार बंद है।

इसके विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ता और लोग विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। सागर पुलिस रेंज के उप महानिरीक्षक दीपक कुमार वर्मा और दमोह के जिलाधिकारी नीरज कुमार सिंह ने हटा पहुंचकर हालात का जायजा लिया और आक्रोशित लोगों से बातचीत की। एसपी ने बताया कि पुलिस आरोपियों की तलाश कर रही है।

Leave a Reply