May 11, 2024

मंडलायुक्त श्री संजय गोयल की अध्यक्षता में माघ मेले 2022 के कार्यों की प्रगति समीक्षा बैठक संपन्न हुई- शरद पांडेय

Spread the love

मंडलायुक्त श्री संजय गोयल की अध्यक्षता में माघ मेले 2022 के कार्यों की प्रगति समीक्षा बैठक संपन्न हुई।

 

सभी संस्थाओं को हेल्थ रजिस्टर बनाने के निर्देश।कल्पवासियों की जानकारी के साथ-साथ आधार नंबर एवं वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट संबंधित जानकारी देना अनिवार्य होगा।

 

मेले के दौरान दो हेल्पलाइन चलाने के भी सुझाव। आने वाले वर्षों में मेला ऐप भी बनाया जाएगा।

 

 

 

 

 

 

 

मंडलायुक्त श्री संजय गोयल की अध्यक्षता में माघ मेले 2022 के कार्यों की प्रगति समीक्षा बैठक आज मेला कार्यालय स्थित आई ट्रिपल सी सभागार में संपन्न हुई जिसमें उन्होंने विभिन्न विभागों द्वारा की जाए कार्यों की बिंदुवार समीक्षा की। स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा करते हुए उन्होंने वैक्सीनेशन एवं कोविड-19 प्रोटोकॉल के अनुपालन पर विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने मेले में कार्यरत सभी विभागीय अधिकारी, कर्मचारियों एवं लेबरों को वैक्सीनेशन की डबल डोज़ लगी है या नहीं यह सुनिश्चित करने को कहा है तथा जिन्हें भी नहीं लगी है ऐसे व्यक्तियों की विभाग वार सूची तैयार कर उन्हें वैक्सीन लगवाने के निर्देश दिए हैं।

 

इसके अतिरिक्त मेले में आने वाले कल्पवासियों के दृष्टिगत सभी संस्थाओं को हेल्थ रजिस्टर बनाने के भी निर्देश दिए हैं जिसमें सभी कल्पवासियों की जानकारी के साथ-साथ आधार नंबर एवं वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट संबंधित जानकारी भी उपलब्ध कराना अनिवार्य होगा। मंडलायुक्त ने स्वास्थ्य विभाग को कोविड प्रोटोकॉल एस ओ पी के आधार पर एक डेडीकेटेड टीम का गठन करने के भी निर्देश दिए हैं जिनके अधिकारी सिर्फ मेले के लिए काम करेंगे एवं जनपदीय कार्यों से मुक्त रहेंगे। इस टीम को उनके द्वारा किए जाने वाले अपेक्षित कार्यों की जानकारी एवं बेहतर समन्वय हेतु कमांड चेन के बारे में अवगत कराने के दृष्टिगत ट्रेनिंग भी दी जाएगी।

 

इस वर्ष मेले में सुव्यवस्था को बढ़ाने के दृष्टिगत मंडलायुक्त ने मेले के दौरान दो हेल्पलाइन चलाने के भी सुझाव दिए हैं जिस पर अपनी समस्याओं के निस्तारण हेतु आम जनमानस कॉल करके मदद ले सकता है। इससे पहले ऐसी सुविधा सिर्फ कुंभ मेले के दौरान दी गई थी। इसके अतिरिक्त आगामी वर्षों में माघ मेले के अनुभव को और बेहतर बनाने एवं संस्थाओं, श्रद्धालुओं तथा कल्प वासियों को मेले संबंधित सभी जानकारी उपलब्ध कराने के दृष्टिगत मेला ऐप बनाने का भी सुझाव बैठक में दिया गया जिसमें माघ मेले एवं कुंभ मेले संबंधित सभी जानकारी के साथ-साथ हर वर्ष मेला क्षेत्र का मैप भी उपलब्ध कराया जाएगा जिससे कि कौन सी संस्था की बसावट किस जगह की गई है तथा कौन सी दुकान व शौचालय कितनी दूर पर है इसकी भी जानकारी मिल सकेगी। इन सभी कार्यों के क्रियान्वयन की जिम्मेदारी मेला अधिकारी को दी गई है।