November 1, 2020

भाजपा जिला कार्यालय पर जिला पदाधिकारियों ने सुनी प्रधानमंत्री की मन की बात – सर्वेश कुमार यादव

Spread the love

*भाजपा जिला कार्यालय पर जिला पदाधिकारियों ने सुनी प्रधानमंत्री से सुनी मन कि बात*

कोरोना काल मे किसानों ने देश के सामने आत्मनिर्भरता की मिसाल कायम की

 

 

रोहनिया-रोहनिया विधानसभा क्षेत्र के कंचनपुर स्थित जिला कार्यालय पर जिले के पदाधिकारियों ने जिला अध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा के नेतृत्व में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मन की बात सुनी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात करते हुए कहा अपने जीवन में बहुत लम्बे अरसे तक एक परिव्राजक के रूप में रहा। घुमंत ही मेरी जिंदगी थी। हर दिन नया गाँव, नए लोग, नए परिवार।भारत में कहानी कहने की, या कहें किस्सा-गोई की, एक समृद्ध परंपरा रही है।

उन्होंने कहा कि हमारे यहां कथा की परंपरा रही है। ये धार्मिक कहानियां कहने की प्राचीन पद्धति है।Where there is a soul there is a story.कहानियां,लोगों के रचनात्मक और संवेदनशील पक्ष को सामने लाती हैं, उसे प्रकट करती हैं।

कहानी की ताकत को महसूस करना हो तो जब कोई मां अपने छोटे बच्चे को सुलाने के लिए या फिर उसे खाना खिलाने के लिए कहानी सुना रही होती हैं।हर परिवार में कोई-न-कोई बुजुर्ग, बड़े व्यक्ति परिवार के, कहानियाँ सुनाया करते थे और घर में नई प्रेरणा, नई ऊर्जा भर देते हैं।हमारे यहां कहा जाता है, जो जमीन से जितना जुड़ा होता है, वो बड़े से बड़े तूफानों में भी अडिग रहता है।मन की बात में आगे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने कहा कि कोरोना के इस कठिन समय में हमारा कृषि क्षेत्र, हमारा किसान इसका जीवंत उदाहरण है।3-4 साल पहले ही महाराष्ट्र में फल और सब्जियों को एपीएमसी के दायरे से बाहर किया गया था।इस बदलाव ने महाराष्ट्र के फल और सब्जी उगाने वाले किसानों की स्थिति बदली है। 28 सितम्बर को हम शहीद वीर भगत सिंह की जयंती मनायेंगे।मैं समस्त देशवासियों के साथ साहस और वीरता की प्रतिमूर्ति शहीद वीर भगत सिंह को नमन करता हूं।आने वाले दिनों में हम देशवासी कई महान लोगों को याद करेंगे, जिनका भारत के निर्माण में अमिट योगदान है।

उन्होंने ने कहा कि 2 अक्टूबर हम सबके लिए पवित्र और प्रेरक दिवस होता है।

यह दिन मां भारती के दो महान सपूतों महात्मा गांधी और लाल बहादुर शास्त्री को याद करने का दिन है।गांधी जी के आर्थिक चिंतन में भारत की नस – नस की समझ थी, भारत की खुश्बू थी।वहीं शास्त्री जी का जीवन हमें विनम्रता और सादगी का संदेश देता है।11 अक्टूबर का दिन भी हमारे लिए बहुत विशेष होता है।इस दिन हम भारत रत्न लोक नायक जय प्रकाश जी को उनकी जयंती पर स्मरण करते हैं।भारत रत्न ननाजी देशमुख की भी जयंती 11 अक्टूबर को ही है।नानाजी देशमुख, जय प्रकाश नारायण जी के बहुत निकट के साथी थे।मन की बात कार्यक्रम को सभी विधानसभा में सेक्टर एवं बूथ पर कार्यकर्ताओं ने सुना।

आज मन की बात का कार्यक्रम में उपस्थित

जिलाध्यक्ष हंसराज विश्वकर्मा ,मन की बात के जिला प्रभारी अरविंद पांडे,सुधीर वर्मा ,मिलन मौर्या,अमन सोनकर,अमित पाठक, हिमांशू जायसवाल ,प्रवीण सिंह,मुकेश, रामचंद्र ,डॉ जीएस पाठक व अन्य शामिल रहे ।