October 20, 2021

ब्रेकिंग:-बेहद सुर्खियों में रहने वाली चर्चित महिला IAS “बी चन्द्रकला” के घर CBI का छापा, इस मामले को लेकर बड़ा खुलासा, मचा हड़कंप, जानिए, कौन हैं चंद्रकला

Spread the love

वाराणसी/लखनऊ. बेहद चर्चित महिला आईएएस चंद्रकला एक बार फिर सुर्खियों में हैं। उनके लखनऊ में योजना भवन के पास सफायर अपार्टमेंट (सरोजनी नायडू मार्ग) में हाईकोर्ट के आदेश पर सीबीआई ने छापा मारा अौर यहां जांच की। सीबीआई ने हमीरपुर में अवैध खनन के मामले में छापेमारी की है। सीबीआई अहम दस्तावेजों के लिए जांच कर रही है। टीम ने घर कई महत्वपूर्ण दस्तावेज जब्त किए हैं। छापेमारी से क्षेत्र में हड़कंप मच गया है।

बता दें कि अखिलेश यादव की सरकार में चन्द्रकला आईएएस की पोस्टिंग पहली बार हमीरपुर जिले में जिलाधिकारी के पद पर की गई थी। आरोप है कि इस आईएएस ने जुलाई 2012 के बाद हमीरपुर जिले में 50 मौरंग के खनन के पट्टे किए थे। जबकि ई-टेंडर के जरिए मौरंग के पट्टों पर स्वीकृति देने का प्रावधान था लेकिन चन्द्रकला ने सारे प्रावधानों की अनदेखी की थी।

जानिए, कौन हैं चंद्रकला

2008 में आंध्र प्रदेश की रहने वाली बी चंद्रकला आईएएस बनी थीं जिसके बाद उन्हें यूपी कैडर दिया गया था। इलाहाबाद और मथुरा में रहते हुए उन्होंने काफी प्रसिद्धि कमाई लेकिन पहली बार उन्हें तब सही से जाना गया जब उनका एक वीडियो वायरल हो गया। ये वीडियो तब वायरल हुआ जब वह बुलंदशहर में डीएम थीं। इस वीडियो में वह सड़क की क्वालिटी को लेकर संबंधित लोगों तो डांटती दिखाई दे रही थीं। इस वीडियो ने उन्हें दुनिया भर में पहचान और फेस दिलाया।

सोशल मीडिया में रहती है एक्टिव

चंद्रकला सोशल मीडिया में काफी एक्टिव रहती हैं। कहीं ना कहीं सोशल मीडिया का उनकी प्रसिद्धि में बड़ा रोल रहा है। फेसबुक पर उनके फैन पेज चल रहे हैं तो कई ग्रुप में चल रहे हैं। यूट्यूब पर उनकी वीडियो की भरमार है। वह खुद फेसबुक पर काफी सक्रिय रहती हैं। इसके अलावा वे जहां भी होती हैं वहां ऐसे कार्यक्रम कराती हैं जो खबरों में आ ही जाता है। जिन दिनों वह बुलंदशहर में थीं उन्होंने 24 घंटे का सफाई अभियान चलवाया था। अपनी पत्नी के लिए ताजमहल बनवाने वाले शख्स को भी उन्होंने तत्कालीन सीएम अखिलेश यादव से मिलवाया था।

शहर में छापेमारी का दौर लगातार जारी है। शुक्रवार को पूर्व IAS अधिकारी वी के चौधरी के घर पर छापा मारकर 300 करोड़ की जमीन घोटाले के मामले में गोमती नगर से गिरफ्तार कर लिया गया है। वहीं कुछ दिन पहले कानपुर और लखनऊ में पान मसाला, मिठाई और रियल एस्टेट कारोबारी व शेयर ट्रेडिंग कंपनी में आयकर विभाग की छापेमारी में एक करोड़ रुपये से ऊपर नकद, पांच किलो सोना, 15 बैंक लॉकर व 59 प्रॉपर्टी डीड समेत कई दस्तावेज जब्त किए।