May 29, 2022

बिहार बंद के समर्थन में उतरे छात्र संगठन, सड़क पर लगाई आग, यातायात ठप

Spread the love

पटना. रेलवे भर्ती बोर्ड (RRB) के नॉन टेक्निकल पॉपुलर कैटेगरी एग्जाम (NTPC) के नतीजों के खिलाफ बिहार में छात्रों का विरोध प्रदर्शन जारी है. इसी क्रम में कई छात्र और युवा संगठनों ने शुक्रवार को बिहार बंद का आह्वान किया है. कई सियासी दल भी छात्रों के समर्थन में आए हैं. शुक्रवार को कई राजद नेता के प्रदर्शन के चलते जाम लग गया. कई मुख्य मार्गों पर गाड़ियों के फंसे होने की खबर है. इसके अलावा संगठनों ने केंद्रीय रेल मंत्रालय की तरफ से गठित समिति को भी ‘धोखेबाजी’ करार दिया है. राज्य में छात्रों ने चरण 1 की परीक्षा परिणामों में कथित गड़बड़ी के विरोध में मंगलवार को बिहार शरीफ रेलवे स्टेशन पर प्रदर्शन किया था.

 

कमेटी के गठन के बाद भी विरोध कर रहे संगठनों ने झुकने से इनकार कर दिया है. समाचार एजेंसी एएनआई के मुताबिक, AISA के महासचिव और विधायक संदीप सौरव ने प्रेस विज्ञप्ति जारी की. उन्होंने कहा कि मंत्रालय की तरफ से गठित की गई समिति मामले को उत्तर प्रदेश में चुनाव तक टालने के लिए की गई ‘साजिश’ है. उन्होंने बताया, ‘उम्मीदवारों की तरफ से उठाए गए सवालों में कोई संदेह नहीं है. गंभीर बेरोजगारी का सामना कर रहे युवा छात्रों की तरफ से यह विशाल आंदोलन यूपी में चुनाव के समय उठा है. इसके दबाव में सरकार और रेलवे का प्रस्ताव आया और मामले को चुनाव तक टालने के लिए साजिश की गई.’

इसके अलावा राज्य में प्रशासन ने भी कानून अपने हाथ में लेने वाले छात्रों के खिलाफ जांच शुरू कर दी है. गुरुवार को राजधानी पटना में राजेंद्र नगर टर्मिनल पर पथराव और तोड़फोड़ करने के आरोप में 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. पटना जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने गुरुवार को पत्रकारों से बातचीत में कहा, ’24 जनवरी को राजेंद्र नगर टर्मिनल पर पत्थर फेंकने और तोड़फोड़ करने के लिए 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है.’

 

राजद नेता ने की आगजनी
वैशाली जिले के हाजीपुर नगर के रामशीष चौक पर महुआ के राजद विधायक डॉ मुकेश रोशन ने सड़क पर आगजनी कर जाम कर दिया और सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. इस दौरान हाजीपुर मुजफ्फरपुर, हाजीपुर छपरा,हाजीपुर समस्तीपुर समेत अन्य मुख्य मार्गो पर वाहनों की लंबी कतारें लग गई जाम के कारण आवगमन ठप हो गया. NTPC परीक्षाफल में धांधली, छात्रों की गिरफ्तारी और उनको झूठे मुकदमे में फंसाने के विरोध में जाम किया गया है.

 

उन्होंने बताया कि छात्रों को कानून अपने हाथ में लेने के लिए उकसाने वालों का पता लगाने कि लिए जांच जारी है. गिरफ्तार किए गए लोगों ने 6 कोचिंग टीचर्स का नाम लिया है. सिंह ने जानकारी दी, ‘पूछताछ के दौरान उन्हें उकसाने के लिए 6 कोचिंग इंस्टीट्यूट के शिक्षकों का नाम सामने आया है. हमने जांच के लिए कुछ वायरल वीडियोज पर संज्ञान लिया है.’

RRB-NTPC नतीजों में कथित गड़बड़ी के खिलाफ जारी छात्रों के विरोध के बाद पुलिस अलर्ट मोड पर है. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सुरक्षा व्यवस्था बनाए रखने के लिए 2500 पुलिसकर्मियों और 100 से ज्यादा दंडाधिकारियों को तैनात किया गया है. इसके अलावा अधिकारियों को सुरक्षा का जायजा लेने के कहा गया है. इसके अलावा जीआरपी भी सतर्क है.