October 20, 2021

बजट सत्र में सरकार करेगी नई उम्मीदों को जगाने की कोशिश

Spread the love

31 जनवरी से 13 फरवरी तक चलने वाले बजट सत्र के दौरान 1 फरवरी को सत्र के दूसरे दिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सरकार अपना आखिरी बजट पेश करने वाली है। लेकिन, इस बार का बजट अंतरिम बजट होगा।

अंतरिम बजट का मतलब होता है कि सरकार वोट ऑन एकाउंट यानी लेखानुदान पेश कर उसे संसद में पास कराएगी, जिससे चुनावी साल में नई सरकार बनने और कार्यभार संभालने तक के वक्त में प्रशासनिक और बाकी दूसरे खर्चों के लिए बजट पास करा लिया जाए।

हालांकि इस बात की पूरी संभावना जताई जा रही है, जिसमें सरकार की तरफ से अंतरिम बजट में ही आने वाले दिनों के लिए कई नई और बड़ी घोषणाएं की जा सकती हैं। सूत्रों के मुताबिक, सरकार मिडिल क्लास को टैक्स से बड़ी राहत देकर उन्हें लुभाने की कोशिश कर सकती है।

दूसरी तरफ, किसानों के लिए भी राहत पैकेज या फिर यूनिवर्सल इनकम जैसी कोई बड़ी घोषणा कर सकती है। अंतरिम बजट में सरकार की तरफ से गरीबों के कल्याण के लिए भी कुछ वादे किए जा सकते हैं। सरकार की कोशिश हो सकती है जिसमें मिडिल क्लास, गरीब तबका और किसान समेत समाज के हर वर्ग को चुनाव से ठीक पहले खुश किया जाए।