October 22, 2021

प्रवासी भारतीय दिवस के दौरान शहर में मेहमानों के जमावड़े….

Spread the love

संवाददाता वाराणसी ,
जनवरी में प्रवासी भारतीय दिवस के दौरान शहर में मेहमानों के जमावड़े और उनकी मेजबानी पर सौ करोड़ का शासन ने बजट जारी कर दिया है । सम्मेलन का आयोजन करने वाले एनआरआइ विभाग के लिए शासन द्वारा सौ करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है ।
मेजबानी की तैयारी को शासन ने शहर के स्थानीय निकाय से लेकर संबंधित विभागों को पत्र लिख खर्च का व्यौरा मांगा है । परिवहन , पर्यटन , संस्कृति , लोक निर्माण , गृह विभाग व युवा कल्याण विभाग से जानकारी तलब किया गया है । बनारस में होने वाले कार्यक्रम के बाद प्रवासी मेहमानों को कुंभ मेला के लिए प्रयागराज ले जाने का कार्यक्रम है । प्रमुख सचिव के हवाले से दी गई चिट्ठी में साफ लिखा गया है कि विभागों से मिलने वाला ब्योरा एनआरआइ सेल द्वारा इवेंट , परिवहन व टेंट सिटी व्यवस्था के लिए दिए गए टेंडर से अलग होना चाहिए ।
कुंभ का आयोजन करने वाली फर्म लल्लू एडं संस को शहर में टेंट सिटी बनाने की जिम्मेदारी मिली है । एनआरआइ सेल के वरिष्ठ अधिकारी आरबी वर्मा ने MVD INDIA NEWS को बताया कि आयोजन बड़ा होने के चलते एक दूसरी फर्म को भी काम बांटा गया है । कंपनी के लोगों ने सर्वेक्षण समेत काम शुरू कर दिया है ।
शासन ने विभागों को लिखे पत्र में साफ तौर पर वित्तीय लेन देन के लिए अलग से बैंक खाता खोलते हुए सूचना तलब की है , जो भी खर्च का हिसाब विभाग देंगे उसके भुगतान के लिए अलग अलग बैंक खाता होगा ।
प्रवासी सम्मेलन के दौरान अब तक 668 घरों में सैलानियों के ठहरने का रास्ता साफ हो
गया है । इसके लिए प्रशासन की हरी झंडी मिल चुकी है । अतिथि देवो भव: के भाव से नगर के लोगों ने सैलानियों के स्वागत में अपने घरों को अतिथ्य सतकार के लिए सजाने सवारने में आतुर है । 21 जनवरी से 23 जनवरी तक होने वाले सम्मेलन के लिए एक ओर प्रशासन तैयारियों में जुटा हुआ है तो आम जनता भी इसमें सहभागिता दिखा रही है । प्रवासी सम्मेलन के दौरान विदेश से आने वाले सैलानियों को शहर के लोगों के घरों में ठहराने की व्यवस्था की जाएगी । वाराणसी विकास प्राधिकरण को जिम्मेदारी सौंपी गई है । वीडीए ने इसके लिए एक ऐप काशी आतिथ्य तैयार कराया है । दो महीने में 919 लोगों ने ऐप को डाउनलोड किया है । 668 आवेदनों का फिजिकल वेरीफिकेशन किया जा जुका है । यहां सैलानियों के रुकने के लिए प्रशासन की हरी झंडी मिल चुकी है ।

सियाराम मिश्रा…