November 28, 2020

पेंशनर्स के लिए जीवन प्रमाण पत्र की प्रक्रिया को सुगम और सहज बनाया जाए: मुख्यमंत्री- अजय मिश्रा

Spread the love

पेंशनर्स के लिए जीवन प्रमाण पत्र की प्रक्रिया को

सुगम और सहज बनाया जाए: मुख्यमंत्री

 

जीवन प्रमाण पत्र प्राप्त करने के लिए आॅनलाइन प्रक्रिया को बढ़ावा दिया जाए

 

डाक विभाग, भारत सरकार के अन्तर्गत इण्डिया पोस्ट पेमेन्ट्स बैंक द्वारा पेंशनधारकों को जीवन प्रमाण/डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट की सुविधा उनके द्वार पर उपलब्ध करायी जा रही हैं

 

डाकिये तथा ग्रामीण डाक सेवक पेंशनधारकों के

जीवन प्रमाण पत्र उनके द्वार पर ही बनाने के लिए अधिकृत किये गये

 

पेंशनधारक इस सुविधा का उपयोग करते हुए अब अपने जीवन

प्रमाण पत्र डाकिये/ग्रामीण डाक सेवकों के माध्यम से बनवा सकते हैं

 

डाकिये/ग्रामीण डाक सेवकों द्वारा स्मार्ट फोन और बायोमैट्रिक डिवाइस का इस्तेमाल

करते हुए खाताधारक के द्वार पर ही बैंकिंग सेवाएं मुहैया करायी जा रही हैं

लखनऊ: 05 नवम्बर, 2020

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ जी ने पेंशनर्स के लिए जीवन प्रमाण पत्र की प्रक्रिया को सुगम और सहज बनाने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा है कि जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत किये जाने के सम्बन्ध में आॅनलाइन प्रक्रिया को बढ़ावा देते हुए इस व्यवस्था को पेंशनर्स के लिए सुविधाजनक बनाया जाए। इससे पेंशनधारक घर अथवा काॅमन सर्विस सेन्टर के माध्यम से जीवन प्रमाण पत्र प्रस्तुत कर आसानी से पेंशन प्राप्त करते रहेंगे।

यह जानकारी आज यहां देते हुए राज्य सरकार के प्रवक्ता ने बताया कि डाक विभाग, भारत सरकार के अन्तर्गत इण्डिया पोस्ट पेमेन्ट्स बैंक (आई0पी0पी0बी0) द्वारा पेंशनधारकों को जीवन प्रमाण/डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट की सुविधा उनके द्वार पर उपलब्ध करायी जा रही है। इसके तहत डाकिये/ग्रामीण डाक सेवकों द्वारा स्मार्ट फोन और बायोमैट्रिक डिवाइस का इस्तेमाल करते हुए खाताधारक के द्वार पर ही बैंकिंग सेवाएं मुहैया करायी जा रही हैं।

प्रवक्ता ने बताया कि इसी क्रम में डाकिये तथा ग्रामीण डाक सेवक अब पेंशनधारकों के जीवन प्रमाण पत्र उनके द्वार पर ही बनाने के लिए अधिकृत किये गये हैं, शर्त यह है कि उनकी पेंशन स्वीकर्ता अथाॅरिटी डिजिटल लाइफ सर्टिफिकेट स्वीकार करने में सक्षम हों।

प्रवक्ता ने कहा कि पेंशनधारक इस सुविधा का उपयोग करते हुए अब अपने जीवन प्रमाण पत्र डाकिये/ग्रामीण डाक सेवकों के माध्यम से बनवा सकते हैं। इससे उन्हें इस कार्य के लिए कोषागार, बैंक इत्यादि जाने की आवश्यकता नहीं होगी।

——-