पुलिस कस्टडी में पिता-पुत्र की मौत की जांच करेगी CBI*

Spread the love

*तमिलनाडु के तूतीकोरिन में पुलिस कस्टडी में पिता-पुत्र की मौत की जांच करेगी CBI*

नई दिल्ली: तमिलनाडु के तूतीकोरिन में कथित पुलिस ज्यादती के बाद पिता-पुत्र की मौत की जांच अब सीबीआई करेगी. राज्य के मुख्यमंत्री के पलानीसामी ने पुलिस कस्टडी में मौत की जांच सीबीआई को देने का फैसला लिया है. मुख्यमंत्री पलानीसामी
ने कहा कि मद्रास उच्च न्यायालय से मंजूरी मिलने के बाद मामला सीबीआई को हस्तांतरित किया जाएगा. बता दें कि पुलिस हिरासत में पिता-पुत्र की मौत के बाद राज्यभर में आक्रोश है. मामले को लेकर राजनीति भी जारी है.अभिनेता-राजनेता कमल हासन  ने मामले को लेकर राज्य के मुख्यमंत्री और उनकी सरकार पर हमला बोला.

कमल हासन ने मुख्यमंत्री के पलानीसामी को मामले का ‘मुख्य आरोपी’ बताया. बता दें कि तूतीकोरिन में अपने मोबाइल फोन की दुकान को अनुमति के घंटों से अतिरिक्त समय तक खुला रखने के कारण पिछले शुक्रवार को गिरफ्तार किए गए पिता और पुत्र की मौत कथित रूप से पुलिस हिरासत में की गई टॉर्चर के कारण हो गई थी.
कमल हासन और तमिल सुपरस्टार रजनीकांत ने आज पीड़ित परिवार से बात की. कमल हासन ने कहा कि, ‘सरकार और मुख्यमंत्री जो पुलिस हत्याओं का आंख बंद करके समर्थन करते हैं, वे भी मुख्य आरोपी हैं. उन्होंने कहा कि इस अपराध को छुपाने की कोशिश करने वालों को सजा दी जानी चाहिए.’ कमल हासन ने कहा, पुलिस के अतिवादी रवैये का समर्थन कर तमिलनाडु सरकार आतंकवाद की अनुमति देती है.’

बता दें कि पी जयराज और बेनिक्स को 19 जून को तूतीकोरिन में उनके मोबाइल फोन की दुकान से गिरफ्तार किया गया था. उनपर आरोप था कि दुकान को लॉकडाउन के दौरान अनुमति के घंटों से अतिरिक्त समय तक खुला रखने के कारण गिरफ्तार किया गया था. इसके चार दिन बाद अस्पताल में दोनों की मौत हो गई थी. परिवारवालों का आरोप था कि पुलिसवालों ने उन्हें बुरी तरह से पीटा.

Leave a Reply