October 26, 2020

पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जीवन दर्शन आज भी प्रासंगिक- अजय मिश्रा

Spread the love

पत्र सूचना शाखा

सूचना एवं जनसम्पर्क विभाग, उत्तर प्रदेश

 

*पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जीवन दर्शन आज भी प्रासंगिक*

 

*सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास ही सही मायने में अंत्योदय है*

 

केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊ, दिनांक 25 सितम्बर 2020

एकात्म मानववाद एवं अंत्योदय के प्रणेता, महान विचारक एवं प्रखर राष्ट्रवादी पंडित दीन दयाल उपाध्याय की जयन्ती पर आज श्री केशव प्रसाद मौर्य ने अपने सरकारी आवास-7 कालिदास मार्ग पर पंडित दीनदयाल उपाध्याय के चित्र पर माल्यार्पण कर उन्हे आत्मिक श्रद्धांजलि अर्पित की। इस अवसर पर उन्होने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय का जीवन दर्शन आज भी प्रासंगिक है। हम सबको उनके जीवन सुकृत्यों से न केवल प्रेरणा लेनी चाहिए बल्कि उनके जीवन दर्शन को आत्मसात् करना चाहिये। उन्होने कहा कि देश के यशस्वी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी व प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में देश व प्रदेश मंे पंडित दीनदयाल उपाध्याय के संकल्पों को पूरा करने का कार्य किया जा रहा है।

श्री मौर्य ने कहा कि सबका साथ-सबका विकास-सबका विश्वास के संकल्प को लेकर सरकार जो कार्य कर रही है, सही मायने में यही अंत्योदय है। उन्होने कहा अंत्योदय दर्शन के महान शिल्पकार पंडित दीनदयाल उपाध्याय ने समाज के अंतिम पायदान के व्यक्ति के चेहरे पर मुस्कान देखने का सपना देखा था, उनके दर्शन के अनुसार ही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं का संचालन कर सरकार सबसे अन्तिम छोर के व्यक्तियों को योजनाओं का लाभ पहुंचाकर उनके स्वावलम्बन का मार्ग प्रशस्त कर रही है।

उन्होने कहा कि कोरोना काल में भी सरकार ने अन्तिम पायदान के व्यक्तियों तक अनेक योजनाएं संचालित कर लाभ पहुंचाया है। कोई भूखा न रहे, अंधेरे में न रहे, इसके लिये भी महत्वपूर्ण योजनाएं चल रहीं हैं। खाद्यान्न आपूर्ति भरपूर मात्रा में की जा रही है। गरीबों की आर्थिक मदद भी की जा रही है।