November 27, 2021

*नई दिल्‍ली : जम्‍मू और कश्‍मीर में 2019 का सबसे बड़ा आतंकी हमला हुआ है.*

Spread the love

*हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (CRPF) के 18 जवान शहीद हुए हैं*

*हमले में 45 से ज्‍यादा जवान घायल*

गुरुवार दोपहर को अवंतीपोरा में आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों को निशाना बनाया. आतंकियों ने इलाके में जवानों पर पहले गोलीबारी की और फिर उन पर कार के जरिये आईईडी ब्‍लास्‍ट किया. समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार, इस हमले में केंद्रीय रिजर्व पुलिस फोर्स (सीआरपीएफ) के 18 जवान शहीद हुए हैं. उरी के बाद ये सबसे बड़ा आतंकी हमला बताया जा रहा है. यह आतंकी हमला पुलवामा जिले के अवंतीपोरा के गोरीपोरा इलाके में हुआ

हमले में 45 से ज्‍यादा जवान घायल हुए हैं. सुरक्षा अधिकारी के मुताबि‍क जम्मू कश्मीर के पुलवामा में सीआरपीएफ जवानों को निशाना बना कर किये गये आईईडी विस्फोट की जैश-ए-मोहम्मद ने जिम्मेदारी ली है. सूत्रों के अनुसार कहा जा रहा है कि ये एक आत्‍मघाती हमला है. इस आत्‍मघाती हमले के पीछे जैश के आतंकी आद‍िल अहमद डार का हाथ बताया जा रहा है.

हमला तब हुआ जब सीआरपीएफ का काफ‍िला जम्‍मू से कश्‍मीर जा रहा था. काफ‍िले में 70 वाहन थे. इसमें से एक बस को सबसे ज्‍यादा नुकसान उठाना पड़ा है. सेना से जुड़े अध‍िकार‍ियों का कहना है कि 2001-02 में आतंकियों ने इसी तरह के फ‍िदायीन हमले को अंजाम दिया है. सेना का कहना है कि सेना ने ज‍िस तरह से आतंक‍ियों के ख्‍ािलाफ ऑपरेशन चलाया है, उसमें उनकी बौखलाहट बढ़ गई है. इसी कारण उन्‍होंने आईएसआईएस की तर्ज पर ये हमला किया है.

कश्मीर के पुलवामा जिले में श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर गुरुवार को आतंवादियों ने आईईडी विस्फोट करते हुए केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ)के वाहन पर गोलियां बरसाईं. इस आतंकवादी घटना में सीआरपीएफ के कम से कम 12 जवान शहीद हुए हैं. पुलिस सूत्रों ने इस बात की जानकारी दी. श्रीनगर से करीब 30 किलोमीटर दूर लेथपोरा में यह आतंकवादी हमला हुआ.

सूत्रों ने कहा कि शहीद जवानों की संख्या बढ़ सकती है क्योंकि कुछ घायल जवानों की हालत बहुत गंभीर है. *जैश-ए-मोहम्मद (जेईएम) आतंकी समूह ने घटना की जिम्मेदारी ली है।