August 8, 2020

जौनपुर पुलिस की हनक ‘हवा’ हो गई – अजय मिश्रा

Spread the love

जौनपुर। जिले में पुलिस की हनक ‘हवा’ हो गई है। अपराधी आए दिन दुस्साहसिक वारदातों को अंजाम दे रहे हैं। शहर में महालक्ष्मी ज्वेलर्स की तर्ज पर शुक्रवार को दिनदहाड़े बाइक सवार डकैतों ने जिला मुख्यालय से करीब 40 किलोमीटर दूर पंवारा बाजार में आभूषण की दुकान में 10 लाख के जेवर लूटकर फिर पुलिस को चुनौैती दे दिये। 56 सेकेंड तक डकैतों के भय से सराफा कारोबारी ही नहीं प्रतिष्ठान में मौजूद महिला ग्राहकों के सिर पर भी मौत नाचती रही। सीसीटीवी में कैद पूरी घटना का वीडियो वायरल हो गया है। इस वारदात ने पुलिस महकमे को हिलाकर रख दिया है। लिहाजा वाराणसी जोन के आइजी विजय सिंह मीणा खुद दोपहर बाद मौका मुआयना करने आ गए। इस मामले में पुलिस ने चार अज्ञात के खिलाफ लूट का मामला दर्ज किया है, जबकि डकैतों की संख्या छह रही। जौनपुर-रायबरेली राष्ट्रीय राजमार्ग पर पंवारा बाजार में वहीं के निवासी अमरनाथ की ‘यस ज्वेलर्स’ फर्म है। सुबह 11 बजे उनके पुत्र योगेश ग्राहकों को जेवर दिखा रहे थे। उसी समय दो बाइक पर सवार छह डकैत धमक पड़े। हेल्मेट पहने व गमछे से मुंह ढंके डकैतों के असलहा तानने पर दुकान में मौजूद सभी को सांप सूंघ गया। हर किसी को मौत सिर पर मंडराती नजर आने लगी। योगेश हाथ जोड़े जान की भीख मांगने वाले अंदाज में बैठा रहा। ग्राहकों के भी चेहरे पर मौत का साफ नजर आ रहा था। डकैत 10 लाख रुपये मूल्य के सोना व चांदी के जेवर लूटने के बाद बाहर आकर असलहे लहराते हुए मुंगराबादशाहपुर की तरफ भाग गए। फिल्मी स्टाइल में हुई 56 सेकेंड की डकैती की पूरी घटना प्रतिष्ठान में लगे सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। पर्दाफाश को चार टीमें गठित आइजी विजय सिंह मीणा ने कहा कि चार पुलिस टीमें गठित की गई हैं। इनका नेतृत्व एएसपी (ग्रामीण) त्रिभुवन सिंह को सौंपा गया है। जल्द ही लूटकांड का अनावरण कर बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा। एक महिला की गतिविधि भी संदिग्ध वायरल वीडियो में डकैतों के घटना को अंजाम देकर भागने के तुरंत बाद दुकान में मौजूद हरे रंग की साड़ी पहने एक महिला भी तेजी से निकलकर जाती दिखी। पुलिस की नजर में महिला की गतिविधि संदिग्ध रही। चार अज्ञात के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज प्रतिष्ठान मालिक अमरनाथ गुप्ता की तहरीर पर पंवारा थाने में चार अज्ञात आरोपितों के खिलाफ लूट का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। कुछ संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की जा रही है। हालांकि अमरनाथ के पुत्र का कहना है कि डकैतों की संख्या छह रही। तीन दुकान में घुसे थेष एक चाकू लेकर गेट पर खड़ा और दो बाहर ही बाइक स्टार्ट करके खड़े थे।