May 28, 2022

जाली बर्थ सर्टिफिकेट के अंतर्राज्यीय गिरोह का एक जालसाज यू.पी.से गिरफ्तार- सुशील झा

Spread the love

रांची:-(झारखंड)

– – – – – – – – – – –

 

*जाली बर्थ सर्टिफिकेट के अंतर्राज्यीय गिरोह का एक जालसाज यू.पी.से गिरफ्तार*

 

🔹️रांची पुलिस ने फर्जी बर्थ सर्टिफिकेट बनानेवाले एक बड़े गिरोह का किया खुलासा ।

 

🔹️ बंग्लादेश, नेपाल और भूटान से जुड़े इस गिरोह के एक जालसाज को रांची पुलिस ने उत्तर प्रदेश के कुशीनगर से किया गिरफ्तार ।

 

🔹️ सिटी एस.पी.गौरव ने बताया है कि उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार मेराज अंसारी ने जालसाजी गिरोह के बारे में बहुत सारी दी हैं जानकारी ।

 

🔹️सिटी एस.पी. के बयान के मुताबिक मिराज ने इस फर्जीवाड़े में अपनी संलिप्तता स्वीकार करते हुए अन्य लोगों के भी बताए हैं नाम ।

 

🔹️ पुलिस उनकी भी गिरफ्तारी के लिए कर रही है छापेमारी ।

 

🔹️ जाली बर्थ सर्टिफिकेट रांची अस्पताल से बनाए गए थे ।

 

🔹️ सितंबर 2021 में रांची के लोवर बाजार थाने में रांची सदर अस्पताल के डिप्टी सुपरीटेंडेंट के द्वारा दर्ज कराए गए एफ.आई.आर.में शिकायत थी कि सदर अस्पताल के आई.डी.को हैक करके फर्जी बर्थ सर्टिफिकेट बनाए जा रहे हैं । जांच में पाया गया कि सितंफर महीने में ही दो दिनों के अंदर 35 ऐसे बर्थ सर्टिफिकेट बनाए गए हैं, जिसका सदर अस्पताल से ताल्लुक नहीं है ।

 

🔹️स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा जांच में पता चला कि रांची सदर अस्पताल का आई.डी. हैक कर फर्जी बर्थ सर्टिफिकेट बनाए जा रहे हैं । सर्टिफिकेट पर दर्ज पते का वेरिफिकेशन कराया , तो वे सभी पते फर्जी पाए गए ।

 

🔹️ जानकारी पुख्ता होने के बाद पुलिस की टीम देवरिया गई । और छानबीन करते हुए कुशीनगर से मेराज अंसारी को गिरफ्तार कर लिया गया ।

 

🔹️पुलिस की पूछताछ में मेराज अंसारी ने अपनी संलिप्तता स्वीकारी है । तथा उन सभी लोगों के बारे में भी जानकारी दी है जिसने उसे सदर अस्पताल रांची का आई.डी. उपलब्ध कराया था

 

🔹️ रिपोर्ट के अनुसार, बनाए जा रहे जाली बर्थ सर्टिफिकेट का कनेक्शन नेपाल , भूटान और बंग्लादेश से हो सकता है । रांची पुलिस इसे देखते हुए नेपाल में भी कर रही है छानबीन ।

 

🔹️ रांची सदर अस्पताल से बनाए गए फर्जी जन्म प्रमाण पत्र में कुछ पाकुड़ और गोड्डा के भी हैं । जिसका कनेक्शन बंग्लादेश की सीमा से है ।

 

🔹️ रांची पुलिस उन सभी 35 लोगों तक पहुंचने की कार्रवाई में जुट गई है ।

 

🔹️आशंका जताई जा रही है कि इन्हीं बर्थ सर्टिफिकेट के सहारे कुछ विदेशी ताकतें देश की नागरिकता हासिल करने के फिराक में है ।

 

🔹️पुलिस सभी बिन्दुओं पर कर रही है छानबीन ।

 

 

 

सुशील झा