January 19, 2022

जरा एक नजर इधर भी :—

Spread the love

वाराणसी : कैन्ट थानाक्षेत्र के अर्दली बाजार महाबीर मंदिर मार्ग स्थित नगर की प्रसिद्ध महिला चिकित्सक डा. शिल्पी सिंह राजपूत बीती देर रात खुद को जहरीला इंजेक्शन लगाकर आत्महत्या कर लिया । सुबह घटना का पता चला तो लोग स्तब्ध रह गये । मौके से सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है । पुलिस मामले की छानबीन में जुटी है । पूरी वारदात सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है । घटना के संदर्भ में बताया गया है कि शिल्पा सिंह राजपूत आजकल बेहद तनाव के दौर से गुजर रही थी । कल रात एक बजे वह अपने कमरे से बाहर आयी और गार्ड से चैम्बर खोलने को कहा । उन्होंने अपने चालक से भी बेचैनी की बात कह अपने चैम्बर में चली गयी । कुछ देर बाद उन्होंने स्वयं को दो जहरीला इंजेक्शन लगाया व सुसाइड नोट भी लिखा । उनके चैम्बर में जाने के बाद कर्मचारी भी सोने चले चले गये । सुबह 10:30 बजे जब उनका चालक व अन्य कर्मचारी चैम्बर में गए तो डा. शिल्पी सिंह औधे मुंह जमीन पर पड़ी रही । आनन-फानन में उन्हे समीप के एक चिकित्सालय में ले जाया गया जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया । सूचना पा कर चौकीप्रभारी अर्दली बाजार मौके पर पहुंचे व सुसाइड नोट बरामद कर लिया है ।
डा. शिल्पी सिंह पर अपने पति की हत्या का आरोप है और वह जेल भी गयी थी । आप को बता दे की डा. डीपी सिंह डा. शिल्पी सिंह के पति थे जिनकी हत्या की साजिश रचने का आरोप शिल्पी सिंह पर है । 13 सितंबर 2017 को तड़के तब उनकी हत्या हुई थी जब वह मार्निंग वाक पर निकले रहे । बदमाशों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर घर से चंद कदम की दूरी पर मौत के घाट उतार दिया था । इस मामले में पति की हत्या की साजिश रचने के आरोप में शिल्पी समेत 6 लोग जेल भेजे गये थे । आजकल शिल्पी का अपने बेटे से काफी तनाव चल रहा था । कई बार झगड़ा होने की बात पड़ोसी तक सुनी गयी । इसका असर उनकी सेहत व नर्सिंग होम पर भी पड़ रहा था ।
महिला चिकित्सक ने अपनी सुसाइड नोट में लिखा है कि उन्होंने 17 साल तक हैवान पति के साथ समय बिताया है । आजकल उनका बेटा उन्हें मारकर संपत्ति पर कब्जा करना चाहता है । इस विषय में पूछने पर नगर पुलिस अधिक्षक ने बताया कि सुसाइड नोट के आधार पर पुलिस जांच कर रही है । फिलहाल मामला आत्महत्या का ही लग रहा है । इसके पीछे के कारणों की जांच अवश्य होगी ।

सियाराम मिश्रा…..