May 22, 2022

जनसम्पर्क विभाग, पूर्वोत्तर रेलवे,वाराणसी-

Spread the love

*जनसम्पर्क विभाग, पूर्वोत्तर रेलवे,वाराणसी*

प्रेस विज्ञप्ति संख्या -01

वाराणसी 16 अप्रैल 2022; अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी रेलवे बोर्ड,नई दिल्ली श्री विनय कुमार त्रिपाठी ने अपने दो दिवसीय वाराणसी दौरे में आज मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय,पूर्वोत्तर रेलवे,वाराणसी के भारतेन्दु सभा कक्ष में वाराणसी परिक्षेत्र में चल रही पूर्वोत्तर रेलवे एवं उत्तर रेलवे की विभिन्न रेल परियोजनाओं की समीक्षा बैठक की । उन्होंने वाराणसी मंडल पर चल रहे परिचालनिक सुगमता,दोहरीकरण,विद्युतीकरण, यार्ड रिमाडलिंग,यात्री सुविधाओं के विकास कार्यों एवं इंफ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट के कार्यों की प्रगति का पावर प्वाइंट के माध्यम से प्रजेंटेशन देखा और नियत समय में कार्यों के निष्पादन हेतु सम्बंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए । अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी,रेलवे बोर्ड श्री विनय कुमार त्रिपाठी की अध्यक्षता में पूर्वोत्तर रेलवे के विभिन्न निर्माणाधीन परियोजनाओं की समीक्षा की गयी। जिसमें पूर्वोत्तर रेलवे के निर्माण संगठन द्वारा कराए जा रहे औंड़िहार से छपरा के बीच दोहरीकरण के कार्य में प्रगति पर, उन्होंने प्रसन्नता व्यक्त की । मंडल रेल प्रबंधक श्री रामाश्रय पाण्डेय ने बताया की दोहरीकरण के क्रम में औंड़िहार- जौनपुर 58 किमी रेल खण्ड पर औंड़िहार से डोभी तक का दोहरीकरण का कार्य पूरा किया जा चुका है तथा डोभी से मुफ्तीगंज 21 किमी रेल खण्ड का सी आर एस निरीक्षण इसी सप्ताह किया जाना है जबकि मुफ्तीगंज-जौनपुर का दोहरीकरण कार्य उत्तर रेलवे द्वारा किये जाने के बाद यह पूरा सेक्शन जल्द ही दोहरीकृत हो जाएगा । बनारस –प्रयागराज रामबाग रेल खण्ड पर बनारस से हंडिया खास तक का दोहरीकरण पूर्ण हो चुका है तथा हंडिया खास से प्रयागराज रामबाग का दोहरीकरण कार्य प्रगति पर है । फेफना-इन्दारा एवं बलिया-छपरा के मध्य भी दोहरीकरण का कार्य तेजी से चल रहा है । इस दौरान बलिया से छपरा दोहरीकरण में कुछ रेलवे स्टेशनों में परिचालन की दृष्टि से बदलाव किये गये हैं। उपरोक्त परिचालन में बदलाव सिर्फ गाड़ियों के बेहतर संचालन के मद्देनजर ही किया गया है, जिससे कि समय पालन में वाँछित सुधार किया जा सके। परिचालनिक बदलाव वाले स्टेशनों पर यात्री सुविधाओं, जैसे कि स्टेशन भवन, प्लेटफार्म, पानी की व्यवस्था, सर्कुलेटिंग एरिया आदि सुविधाओं में और बढ़ोत्तरी की जा रही है । उपरोक्त दोहरीकरण परियोजना के क्रम में यात्रियों को बेहतर सुविधाएं मुहैया कराने हेतु स्टेशनों पर हाई लेवल प्लेटफार्म तथा फुट ओवर ब्रिज इत्यादि का भी निर्माण कार्य कराया जा रहा है ।

श्री त्रिपाठी ने वाराणसी परिक्षेत्र में चल रही विभिन्न रेल परियोजनाओं के अंतर्गत निर्माण कार्यों को मानक के अनुरूप पूरी गुणवत्ता के साथ लक्ष्यावधि में ही पूर्ण करने का निर्देश दिया। उन्होंने रेल अधिकरियों को निर्देश दिया की जिन गाड़ियों में प्रायः भीड़ अधिक होती है उन गाड़ियों में स्थाई रूप से अतिरिक्त कोच लगाने की व्यवस्था करें तथा यात्रियों की माँग के अनुरूप लम्बी दूरी की गाड़ियों में लगाये गये अस्थाई कोचों को स्थाई कर रेगुलर करें ।

अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी,रेलवे बोर्ड ने एक औपचारिक वार्ता में बताया कि वाराणसी परिक्षेत्र में चल रही रेल परियोजनाएं अंतिम चरण में हैं कुछ महीनों में ही मूर्त रूप ले लेंगी जिसका लाभ वाराणसी परिक्षेत्र की जनता को मिलने लगेगा । इसके अतिरिक्त मंडल रेल प्रबंधक कार्यालय पर चेयरमैन रेलवे बोर्ड श्री वी.के.त्रिपाठी ने कर्मचारी यूनियन के प्रतिनिधियों एवं उनके पदाधिकारियों से संवाद किया और उनकी समस्या का संज्ञान लिया और समस्याओं के शीघ्र निस्तारित कराने का आश्वासन दिया । उन्होंने बताया कि भारतीय रेल एक परिवार है तथा भारतीय रेल का प्रत्येक कर्मचारी इसकी निधि और प्राथमिकता भी है ,अतः भारतीय रेल अपने कर्मचारियों को बेहतर सुख-सुविधाएँ प्रदत्त कराने हेतु प्रतिबद्ध और प्रयत्नशील है ।

उक्त बैठक में पूर्वोत्तर रेलवे,वाराणसी मंडल के मंडल रेल प्रबंधक श्री रामाश्रय पाण्डेय तथा उत्तर रेलवे के लखनऊ मंडल के मंडल रेल प्रबंधक श्री एस के सपरा समेत निर्माण संगठन, पूर्वोत्तर एवं उत्तर रेलवे के वरिष्ठ मंडलीय अधिकारी मौजूद थे।

इसके उपरान्त अध्यक्ष एवं मुख्य कार्यकारी अधिकारी,रेलवे बोर्ड श्री विनय कुमार त्रिपाठी ने वाराणसी जं रेलवे स्टेशन का भी निरीक्षण किया ।

 

 

*पंकज कुमार सिंह*

मुख्य जनसंपर्क अधिकारी

पूर्वोतर रेलवे