November 27, 2020

जनपद की एसओजी टीम व थाना नारखी पुलिस ने थाना नारखी की नगला बीच चौकी के पास घटित *डी के गुप्ता हत्याकाण्ड* का सनसनीख़ेज़ खुलासा- अजय मिश्रा

Spread the love

*सराहनीय कार्य, जनपद फिरोजाबाद*

 

जनपद की एसओजी टीम व थाना नारखी पुलिस ने थाना नारखी की नगला बीच चौकी के पास घटित *डी के गुप्ता हत्याकाण्ड* का सनसनीख़ेज़ खुलासा ।

 

*षड्यंत्रकारियों और शूटर समेत सात लोग गिरफ़्तार।*

दिनाँक *16.10.2020* को रात्रि करीब 08.00 बजे थाना नारखी के कस्वा नगला बीच में प्रतिष्टित व्यक्ति *बी.जे.पी नेता दयाशँकर गुप्ता* की कुछ अज्ञात व्यक्तियों द्वारा गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी जिसके सम्बंध में थाना नारखी पर मु.अ.सं. 446/2020 धारा 302/120बी भादवि में मुकदमा पंजीकृत होकर 03 नामजद प्रतिवादीगण को जेल भेज दिया गया था। जिसमें अज्ञात शूटरों की तलाश जारी थी, तत्पश्चात एसओजी टीम व थाना नारखी पुलिस द्वारा अथक प्रयास व कङी मेहनत करते हुए डी0के0 गुप्ता की हत्या के अभियुक्त अनिल पण्डित को गिरफ्तार किया।

 

घटना का खुलासा करते हुए यह तथ्य सामने आये कि – नगला बीच के इनके पड़ोसी ईश्वरदेव गुप्ता व उसके भाई फूलकिशोर का डी0के0 गुप्ता से पुराना जमीनी विवाद था जिसे लेकर दोनों पक्षों में आपसी मतभेद था। इसी रजिश को लेकर ईश्वरदेव गुप्ता द्वारा अपने मकान में किराये पर रह रहे पेशेवर अपराधी अनिल पण्डित से डी0के0 गुप्ता की हत्या करवाने हेतु 04 लाख रुपये व 50 गज का प्लाट में बात तय की गयी ।

 

अनिल पण्डित द्वारा डी0के0 गुप्ता की हत्या हेतु जितेन्द्र उर्फ जीतू की समर पर स्थानीय व्यक्ति जीतू व बली मौहम्मद का सहयोग लेते हुए साथी शिशुपाल उर्फ गब्बर व अन्य शूटर साथी जयकेश उर्फ जैकी , दुर्वेश उर्फ दुर्गेश के साथ घटना को अंजाम देने की योजना बनायी।

 

योजना के तहत दिनांक 16.10.2020 को अपाचे मोटरसाइकिल से चालक अनिल पण्डित , जयकेश उर्फ जैकी, दुर्वेश उर्फ दुर्गेश नगला बीच पहुँचे और शूटर दुर्वेश उर्फ दुर्गेश द्वारा गोली मारकर डी0के0 गुप्ता की हत्या कर दी गयी।

 

घटना का सफल खुलासे करते हुए एसओजी फिरोजाबाद व थाना नारखी पुलिस द्वारा उपरोक्त 07 अभियुक्तगण को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया।

 

सचिंद्र पटेल

पुलिस अधीक्षक

फ़िरोज़ाबाद