November 28, 2021

गरीबों को 5 लाख रूपये की चिकित्सा सुविधा की आयुष्मान भारत योजना 23 सितम्बर से पूरे देश में होगा लागू-प्रधानमंत्री

Spread the love

वाराणसी।
पूर्वी भारत के गेटवे की तरह वाराणसी को विकसीत करने का हो रहा
प्रयास-नरेन्द्र मोदी

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने 557.39 करोड़ रूपये की विकास योजनाओं का
लोकापर्ण व शिलान्यास किया

बनारस पूर्वी भारत का बड़ा मेडिकल हब बनेगा

बनारस में हुए 4 वर्षो में विकास के परिवर्तन से यहॉ आने वाले पर्यटकों
की संख्या में भारी बढ़ोत्तरी हुई है, जो 8 लाख से बढ़कर 21 लाख हुई

गरीबों को 5 लाख रूपये की चिकित्सा सुविधा की आयुष्मान भारत योजना 23
सितम्बर से पूरे देश में होगा लागू-प्रधानमंत्री

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार ने ऐतिहासिक कार्य किये है

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने काशी हिन्दू विश्वविद्यालय के
एम0पी0थियेटर स्टेउियम में 557.39 करोड़ के विकास कार्यो का लोकापर्ण व
शिलान्यास किया। जिसमें पुरानी काशी क्षेत्र में 36200.00 लाख रूपये की
शहरी विद्युत सुधार कार्य, 8461.00 लाख रूपये की डी0डी0यू0जी0जे0वाई0
अन्तर्गत 3722 मजरों में विद्युतीकरण का कार्य, 990.00 लाख रूपये की
डी0डी0यू0जी0जे0वाई0 अन्तर्गत सिंगल फेज के 90 हजार मीटर लगाने का कार्य,
280.00 लाख की डी0डी0यू0जी0जे0वाई0 अन्तर्गत 33 केवी विद्युत उपकेन्द्र
बेटावर का निर्माण, 258.00 लाख रूपये की डी0डी0यू0जी0जे0वाई0 अन्तर्गत 33
केवी विद्युत उपकेन्द्र कुरूसातों का निर्माण, 274.15 लाख रूपये की
नागेपुर ग्राम पेयजल योजना एवं 2000.00 लाख रूपये की अटल इन्क्यूबेशन
सेन्टर का उद्घाटन तथा 1200.00 लाख रूपये की काशी हिन्दू विश्वविद्यालय
में वैदिक विज्ञान केन्द्र की स्थापना व 3800.00 लाख रूपये की रीजनल
इन्स्टीच्यूट आफ ऑफथेल्मोंलॉजी का शिलान्यास शामिल है।
विशाल जन सैलाब से गद्गद प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने अपने सम्बोधन को
खाटी बनारसी बोली से शुरू करते हुए कहॉ कि काशी क लोग हमें इतना प्यार
करेलन, ऐसे मन गद्गद हो जा ला। हम तोहार बेटा हई। बार-बार आवे के मन
करेला। जोर से नारा लगाया हर-हर महादेव। उन्होने कहॉ कि बाबा विश्वनाथ व
मॉ गंगा के आशीर्वाद से एक और वर्ष की शुरूआत कर रहा हूॅ। सेवा-संकल्प को
मजबूत करने की कड़ी में आज करोड़ो रूपये के विकास कार्यो का लोकापर्ण व
शिलान्यास किया गया है। विकास कार्य शहर के साथ-साथ आस-पास के गॉव से
जुड़े हे। किसानों, बुनकरो, शिल्पकारों को नये अवसर से जोड़ने की योजनायें
हे। बीएचयू को 21 वीं सदी का महत्वपूर्ण नालेज सेन्टर बनाने के प्रोजेक्ट
शुरू हुए है।
प्रधानमंत्री मोदी ने कहॉ कि बनारस के विकास से जो बदलाव किया जा रहा
है। उसमें यहॉ की सांस्कृतिक परम्परा को संजोते, पौराणिकता को बरकरार
रखते हुए किया जा रहा है। काशी शहर की पहचान को सुरक्षित रखते हुए
आधुनिकता का समावेंश किया जा रहा है। चार वर्षो के कार्यो का बदलाव दिख
रहा है। उन्होने इस पर सन्तोष व्यक्त किया। बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद से
विकास की नई दिशा देने में सफल हुए है। बनारस में बिजली के झूलते तार आज
अन्डर ग्राउण्ड केबिल से एक सुन्दर दृश्य दिखने लगा। बनारस को पूर्वी
भारत का गेटवे विकसीत करने का प्रयास हो रहा है। 21 वीं सदी के अनुरूप
ट्रासपोर्ट, मेडिकल, शिक्षा सभी सुविधाओं का विकास किया जा रहा है। एलईडी
लाइट की रोशनी से काशी जगमगा रहा है। इससे करोड़ो रूपये की बिजली की बचत
हुई है। इससे आसपास के ग्रामीण क्षेत्रों में प्रर्याप्त विद्युत आपूर्ति
सुनिश्चित हो रहा है। रिंग रोड जो फाइल में दबा था भी योगी सरकार में
तेजी से पूरा हो रहा है। हरहुआ से गाजीपुर फोर लेन सड़क, हरहुआ से चन्दौली
नये सर्किट निर्माण तथा गंगा पर नया पुल बनेगा। बनारस के अन्दर एवं बाहर
विस्तार किया जा रहा है। जिसमें आस-पास के जिलों सहित बिहार, मध्य प्रदेश
आदि को लाभ होगा।
पर्यटन की दृश्टि से पंचक्रोसी परिक्रमा मार्ग के निर्माण,
बाबतपुर-कचहरी मार्ग निर्माण, सारनाथ क्षेत्र का विकास एवं लाइट एण्ड
साउण्ड के काय्र आदि से पर्यटकों में भारी वृद्वि हुई है। बाबतपुर हवाई
अड्डा पर 4 वर्ष पूर्व 8 लाख पय्रटक आते रहे, जो अब 21 लाख आते है।
स्मार्ट बनारस में स्मार्ट परिवर्तन दिख रहा है। इंटीग्रेडेड कमांड
कंट्रोल सेन्टर बन रहा है। मलटी माडल टर्मिनल का काम पूरा हो गया है।
कैट, मण्डुवाडीह, सिटी रेलवे स्टेशनों की भव्य तसवीर दिखती है और जब लोग
सोशल मीडिया पर कैण्ट स्टेशन का फोटो पोस्ट करते है, तो अच्छा लगता है।
वाराणसी शहर के सौन्दर्य को निखारा गया है। गंगा में क्रूज की व्यवस्था
हो गई है। हेरिटेज का गौरव बढ़ा है। कुडों की सफाई एवं उसका सौन्दर्यीकरण
हुआ है। विदेशों में काशी की प्रशंसा हो रहा है। प्रधानमंत्री ने काशी
में संचालित एवं पूर्ण हो चुके अनेको विकास का नाम लेकर विस्तार से
उल्लेख किया।
आगामी जनवरी में प्रवासी भारतीय दिवस कार्यक्रम का उल्लेख करते हुए
उन्होने कहॉ कि सरकारी व्यवस्थायें की जा रही है। काशीवासी अतिथियों का
ऐसा स्वागत-सम्मान करे कि वह जीवन भर याद रखे तथा काशी के टूरिस्ट
एम्बेस्डर बन जाये। गंगा सफाई, गंगोत्री से गंगा सागर तक के लिये 21 हजार
करोड़ रूपये की 200 परियोजनायें लागू है। वाराणसी में 600 करोड़ रूपये की
परियोजना सीवर ट्रीटमेंट प्लांट आदि की हो रही है। सांसद आदर्श ग्राम
नागेपुर, जयापुर, ककरहिया एवं डोमरी में विकास व कल्याणकारी कार्य हो रहे
है। मेडिकल के क्षेत्र में बनारस पूर्वी भारत की बड़ा मेडिकल सेन्टर बनाने
की कार्यवाही हो रही है। नये अस्पताल बन रहे है। पुरानों का सुद्वृणीकरण
एवं विस्तारीकरण हो रहा है। आयुष्मान भारत योजना से जोड़ने उत्तर प्रदेश
के मुख्यमंत्री योगी आदितयनाथ को बधाई देते हुए बताया कि 23 सितम्बर से
यह योजना पूरे भारत में लागू होगी। गरीब को 5 लाख रूपये तक का मुफ्त इलाज
होगा।
देश के 80 करोड़ युवाओं के लिये अटल इन्क्यूबेशन सेन्टर, वैदिक विज्ञान
सेन्टर नई उर्जा देगें। सोच को सफलता तक पहूॅचानें में स्टार्टअप,
स्टैण्डअप में यह मदद्गार होगे। देश में रिकार्ड अनाज व शहद का उत्पादन
हो रहा है। वाराणसी की हस्तशिल्प विश्व प्रसिद्व है। इसके संवर्द्यन के
कार्य हो रहे है। 8 हजार लोगो के घरो में पाइप लाइन से कुकिंग गैस पहूॅच
चुकी है तथा 40 हजार परिवारों में पहूॅचाने का कार्य हो रहा है। उज्जवला
योजनान्तर्गत वाराणसी में 60 हजार गैस कनेक्शन दिये गये है। यहॉ के एक-एक
पैसा व काम का हिसाब यहॉ के लोगो को दूॅगा।
इससे पूर्व प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कुम्हारीकलॉ के लाभार्थी
विनोद प्रजापति को विद्युत चालित चाक, ओकारनाथ प्रसाद को मधुमक्खी पालन
का बाक्स व संदीप को प्रतीक स्वरूप वितरित किये तथा अन्य लाभार्थियों को
अलग से वितरित किया गया। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने बीएचयू कैम्पस
में वृक्षारोपण का पर्यावरण संरक्षण का भी संदेश दिया। मंच पर सर्वप्रथम
महामना मदन मोहन मालवीय के आदमकद मूर्ति पर माल्यापर्ण किया। इस अवसर पर
बीएचयू की छात्राओं ने कुलगीत गाया तथा इस अवसर पर लोकार्पित व शिलान्यास
हुए विकास परियोजनाओं की वीडियों क्लिप भी दिखाई गयी।
इस अवसर पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का स्वागत करते हुए उत्तर प्रदेश
के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहॉ कि प्रधानमंत्री का काशी से
भावनात्मक रिश्ता है। मेरी काशी कहकर आध्यात्मिक व आधुनिक सुविधायुक्त
काशी के लिये 4 वर्षो में जो योजनायें आयी और आगे बढ़ी उसके लिये उत्तर
प्रदेश सरकार की ओर से हार्दिक स्वागत एवं अभिनन्दन है। आईपीडीएस योजना
में काशी के सड़कों-गलियों में लटके तारो की अण्डर ग्राउण्ड करने के साथ
ही इससे राजस्व की बचत जैसी बड़ी व महत्वाकांक्षी योजना प्रधानमंत्री ने
यहॉ लागू की है। पं0दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण विद्युतीकरण योजना में डेढ़
वर्ष में 72 हजार गॉवों एवं मंजरो का विद्युतीकरण, 52 लाख परिवारों को
सौभाग्य योजना में बिजली कनेक्शन मिले है। सुदूर गॉवों के गरीब जिसने कभी
बिजली नही देखा। आज उनका घर एलईडी बल्ब की रोशनी में जगमग है। बिना
भेदभाव के विकास कार्य हुआ है। उन्होने कहॉ कि कााी हिन्दू विश्वविद्यालय
महामनाका साधना स्थली है। अटल इक्यूबेशर सेंटर, वैदिक विज्ञान केन्द्र
यहॉ युवाओं, अनुसूचित जाति, महिलाओं को आधुनिक शिक्षा से जोड़कर स्टार्टअप
व स्टैण्डअप से रोजगार के क्षेत्र खुलेगें। काशी में 4 वर्षो में
प्रधानमंत्री द्वारा कराये गये विकास कार्य दिखाई देते है। जिसे आम लोग
महसूस करते है।
सांसद एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डा0महेन्द्र नाथ पाण्डेय ने भी
प्रधानमंत्री का स्वागत करते हुए उनके काशी से लगाव एवं काशी में उनके
द्वारा कराये गये ऐतिहासिक विकास कार्यो का उल्लेख किया।