October 24, 2020

कंगना राणावत कल तक एक फिल्मी कलाकार थी वो आज पूरे देश में राष्ट्रवाद और सनातन धर्म की आवाज बन गई- T.N Singh

Spread the love

जो कंगना राणावत कल तक एक फिल्मी कलाकार थी वो आज पूरे देश में राष्ट्रवाद और सनातन धर्म की आवाज बुलन्द करने वाली शेरनी बन गई है, केवल एक फिल्म में झांसी की रानी लक्ष्मीबाई का किरदार निभाने से ही किसी के अंदर देश धर्म और अन्याय के खिलाफ आवाज उठाने की इतनी हिम्मत आ गई सोचो यदि 1947 के बाद से हमारे देश के बच्चों को किताबों हमारे महान पूर्वजों और सभ्यता व संस्कृति तथा सनातन धर्म की शिक्षा पढ़ाई गई होती, तो आज भारत के हर घर से राष्ट्रभक्त निकलते परंतु अफसोस यह है कि सत्ता में बैठे मुगलों की नाजायज औलादों ने हमे उनके बाप दादाओं के कुकर्मों के बारे में ही पढ़ाया, तथा फ़िल्मों ओर नाटकों में साधु को पाखंडी ठाकुर को बलात्कारी ओर सरदारों को बेवक़ूफ़ बताया गाया जिसका परिणाम यह हुआ कि भारत जैसे सनातन धर्म का मज़ाक़ बनने लगा ओर हम हिंदू भी इसे बेवक़ूफ़ों की तरह बस मनोरंजन समझ कर देखने लग गये जिसका परिणाम आज आपके सामने है,

*अब भी समय है सत्य को पहचाने ।*