January 16, 2021

एलन बॉर्डर, बोले- भारत की जीत के लिए वह जरूरी

Spread the love

नई दिल्ली. ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान एलन बॉर्डर (Allan Border) का मानना है कि आगामी चार टेस्ट मैचों की सीरीज में अगर भारत जीत दर्ज करता है तो इसमें पूरी तरह से फिट जसप्रीत बुमराह (Jasprit Bumrah) की भूमिका अहम होगी. स्वयं को बुमराह का बड़ा प्रशंसक बताते हुए बॉर्डर ने कहा कि भारतीय तेज गेंदबाजी के अगुआ में दोनों टीमों के बीच अंतर पैदा करने की क्षमता है. सीरीज गुरुवार से एडिलेड (India vs Australia) में शुरू होगी.

बॉर्डर ने कहा, ”मैं बुमराह का बड़ा प्रशंसक हूं. अगर वह खुद को फिट रखता है. हम उस खिलाड़ी के बारे में बात कर रहे हैं जो आपके लिए मैच जीत सकता है. मैं उसको लेकर थोड़ा चिंतित हूं, क्योंकि हमारी पिचों पर थोड़ी उछाल और मूवमेंट मिलता है.”

‘भारत की जीत के लिए, मुझे बुमराह की चिंता’

उन्होंने सोनी नेटवर्क पर एक कार्यक्रम में कहा, ”भारत की जीत के लिए, मुझे बुमराह की चिंता है. अगर वह पिछली बार की तरह गेंदबाजी करता है, महत्वपूर्ण विकेट हासिल करता है तो मेरा मानना है कि वह वास्तविक अंतर पैदा कर सकता है.” बुमराह ने 2018-19 में चार मैचों में 21 विकेट लिए थे. उन्होंने भारत की ऑस्ट्रेलियाई धरती पर पहली टेस्ट सीरीज में जीत में अहम भूमिका निभाई थी.

 

‘टेस्ट मैच जीतने के लिए 20 विकेट की जरूरत होती है’
बॉर्डर ने कहा, ”आप हमेशा यह सोचते हो कि आपके बल्लेबाज पर्याप्त रन बनाए, लेकिन आपको टेस्ट मैच जीतने के लिए 20 विकेट की जरूरत होती है. अगर वह फिट रहता है तो वह काफी अहम साबित होगा.” उन्होंने कहा, ”वह (बुमराह) बेहद घातक गेंदबाज है. वह क्रिकेट का पूरा लुत्फ उठाता है. हमेशा उसके चेहरे पर मुस्कान होती है. जब वह लय में होता है तो फिर उसे खेलना बहुत मुश्किल होता है. ”

‘कैमरून ग्रीन पर रहेगी सभी की नजर’

इस पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान की नजर में युवा ऑलराउंडर कैमरून ग्रीन पर सभी की नजर रहेगी. उन्होंने कहा, ”ऑस्ट्रेलिया की बात करें तो कैमरून ग्रीन वास्तव में बहुत अच्छा युवा क्रिकेटर है. वह उन खिलाड़ियों में शामिल है, जिन पर नजर रहेगी. वह लंबे कद का खिलाड़ी है और उसकी बल्लेबाजी वास्तव में अच्छी है. उसकी तकनीक शानदार है.”

गेंदबाजों पर बरसे शेन वॉर्न, बोले- बिना चुनौती दिए ही टेक देते हैं घुटने

‘पहले टेस्ट मैच के बाद विराट कोहली की कमी खलेगी’
बॉर्डर का इसके साथ ही मानना है कि भारत को पहले टेस्ट मैच के बाद विराट कोहली की कमी खलेगी, जो पितृत्व अवकाश पर स्वदेश लौट जाएंगे. उन्होंने कहा, ”मैं इससे सहमत हूं कि उसके (कोहली) के जाने के बाद भारत की बल्लेबाजी में बड़ा अंतर पैदा होगा. केवल मैदान पर उसकी उपस्थिति से ही अंतर पैदा होता है. मुझे लगता है कि ऑस्ट्रेलियाई इससे खुश होंगे कि उन्हें तीन टेस्ट मैचों में उसे गेंदबाजी नहीं करनी होगी.” उन्होंने कहा, ”इसलिए वह एडीलेड में भारत को शानदार शुरुआत देने की कोशिश करेगा और देखते हैं कि उसके बाद आगे क्या होता है.”