September 21, 2023

एडीजी ने जोन के समस्त थानों पर आए हुए लेखपालों की मांगी सूची-

Spread the love

*सहजनवा थाने पर एडीजी ने सुनी फरियाद 25 लेखपालों में 17 लेखपाल रहे नदारद*

 

*एडीजी ने जोन के समस्त थानों पर आए हुए लेखपालों की मांगी सूची*

 

गोरखपुर। एडीजी जोन संतकबीर नगर जनपद से समाधान थाना दिवस का निपटारा कर गोरखपुर जनपद के सहजनवा थाने पर पहुंचकर आए हुए फरियादियों की समस्याओं को सुना संबंधित को गुणवत्ता युक्त समस्याओं को निस्तारण करने के लिए किये निर्देशित थाने पर मौजूद समस्त बीट प्रभारियों व बीट कांस्टेबलों के साथ बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिये कि बीट के अंतर्गत समस्त सम्मानित व्यक्तियों के मोबाइल नंबर बीट प्रभारी के पास अवश्य होने चाहिए बीट के अंतर्गत आने वाले अपराध में संलिप्त रहने वाले अपराधियों की सूची अवश्य अपने अपने पास रखे। साथ में ही आईआरएस प्रार्थना पत्रों के निस्तारण की जानकारी थाना प्रभारी से प्राप्त किया जमीन संबंधित मामलों के निस्तारण के लिए थाना अंतर्गत पड़ने वाले समस्त राजस्व कर्मचारियों की मौजूदगी अनिवार्य होती है लेकिन सहजनवा थाने पर सहजनवा तहसील के 25 लेखपालों की ड्यूटी लगाई गई थी लेकिन मौके पर केवल आठ लेखपाल मौजूद मिले 17 लेखपाल नदारद मिले एडीजी जोन ने तत्काल गोरखपुर जनपद सहित पूरे जोन के पुलिस कप्तान को निर्देशित किये कि थाना दिवस पर पहुंचने वाले लेखपालों की सूची उपलब्ध कराई जाए जिससे शासन को अवगत कराया जाए कि किन किन जनपदों में किन-किन थानों पर कौन-कौन सा लेखपाल अपने दायित्वों का निर्वहन सही तरीके से नहीं कर रहा है अब शासन निर्णय लेगा कि आज अनुपस्थित रहने वाले गोरखपुर जनपद सहित जोन के समस्त थानों पर जो लेखपाल उपस्थित नहीं थे कार्रवाई किस तरीके करती है या जनपद की जिला अधिकारी के ऊपर शासन छोड़ता है वैसे तो अधिकतर थानों पर लेखपाल अपने दायित्वों का सही तरीके से निर्वहन नहीं करते हैं जो लेखपाल कार्य करने वाले हैं वह भी कार्य नही कर पाते हैं जो लेखपाल अनुपस्थित रहता है यह बता दिया जाता है कि उक्त लेखपाल फला भूमि की सीमांकन करने हेतु डिप्टी लगाया गया है जो कि शासन का निर्देश है कि एक छत के नीचे समस्त विभागों के अधिकारीगण थानों पर रह कर आए हुए फरियादियों की समस्याओं को सुनकर उसके समस्याओं का गुणवत्ता युक्त निस्तारण करें जिससे फरियादी को बार-बार थानों का चक्कर न लगाना पड़े लेकिन सहजनवा के थानेदार ने यह बताया कि 12 लेखपालों की ड्यूटी सहजनवा थाने पर लगाई गई थी और 8 उपस्थित थे चार विभिन्न कार्यों हेतु गए हुए थे जिस समय एडीजी महोदय सहजनवा थाने पहुंचे थे। लेकिन सत्त्ता यह थी कि 25 में 17 लेखपाल अपने दायित्वों का निर्वहन ना करते हुए लापता मिले थे।